दैनिक भास्कर हिंदी: अधिसंख्यक भारतीयों ने कहा, चीन, पाकिस्तान से बड़ी समस्या

June 23rd, 2020

हाईलाइट

  • अधिसंख्यक भारतीयों ने कहा, चीन, पाकिस्तान से बड़ी समस्या

नई दिल्ली, 23 जून (आईएएनएस)। लद्दाख के गलवान घाटी में चीन-भारत के बीच संघर्ष के मद्देनजर कराए गए आईएएनएस-सीवोटर स्नैप पोल के अनुसार 68.3 प्रतिशत भारतीयों का मानना है कि चीन चिर-प्रतिद्वंदी पाकिस्तान की तुलना में ज्यादा बड़ी समस्या है।

केवल 31.7 प्रतिशत उत्तरदाता अब भी सोचते हैं कि पाकिस्तान भारत के लिए चीन से भी बड़ी समस्या है।

यह भारतीयों की सामान्य सोच में एक बड़ा बदलाव है, जो पाकिस्तान को अपना एक प्रमुख शत्रु मानता है। 10,000 से ज्यादा सैंपल साइज में कराए गए स्नैप पोल से पता चलता है कि ज्यादा से ज्यादा भारतीय देश के आसपास के बदले हुए हालात से वाकिफ हैं।

पूर्वी लद्दाख में चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के साथ भारतीय सेना की हिंसक झड़प में एक भारतीय अधिकारी समेत 19 जवान शहीद हो गए थे।

इसे देखते हुए, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीन को स्पष्ट संदेश देते हुए कहा कि जब संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता की बात आएगी तो भारत किसी भी तरह की हिमाकत बर्दाश्त नहीं करेगा।

प्रधानमंत्री ने मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक में कहा, मैं देश को आश्वस्त करना चाहता हूं कि हमारे जवानों की शहादत बेकार नहीं जाएगी। हमारे लिए अखंडता और संप्रभुता महत्वपूर्ण है। भारत शांति चाहता है , लेकिन जब उकसाया जाएगा तो हम उचित जवाब देने में सक्षम हैं।