comScore

मोदी को मनमोहन की चिट्ठी, कहा-तीन मूर्ति भवन में न करें कोई बदलाव

August 27th, 2018 13:59 IST
मोदी को मनमोहन की चिट्ठी, कहा-तीन मूर्ति भवन में न करें कोई बदलाव

हाईलाइट

  • मनमोहन ने लिखा है कि नेहरू कांग्रेस ही नहीं, बल्कि पूरे देश के नेता थे।
  • मनमोहन ने पत्र में लिखा, 'नेहरू म्यूजियम और लाइब्रेरी में बदलाव करने के लिए सरकार एजेंडे के तहत काम कर रही है।
  • मनमोहन सिंह ने पत्र में दिवंगत प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के बारे में भी लिखा।

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने चिट्ठी लिखी है। चिट्ठी में मनमोहन सिंह ने लिखा है कि तीन मूर्ति भवन में नेहरू मेमोरियल म्यूजियम और लाइब्रेरी में किसी तरह का बदलाव न किया जाए। एक अंग्रेजी अखबार के मुताबिक चिट्ठी में मनमोहन ने लिखा है कि नेहरू कांग्रेस ही नहीं, बल्कि पूरे देश के नेता थे।

एक सप्ताह पहले भेजे गए पत्र में पूर्व प्रधानमंत्री ने लिखा है कि जवाहर लाल नेहरू पूरे देश के नेता थे और इस भावना के साथ ही मैं आपको चिट्ठी लिख रहा हूं। मनमोहन ने पत्र में लिखा, 'नेहरू म्यूजियम और लाइब्रेरी में बदलाव करने के लिए सरकार एजेंडे के तहत काम कर रही है। सरकार दोनों की प्रकृति और स्वरूप बदलना चाहती है। ऐसा नहीं होना चाहिए।

मनमोहन सिंह ने पत्र में दिवंगत प्रधानमंत्री अटल बिहारी वायपेयी के बारे में भी लिखा। मनमोहन ने लिखा कि पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी का कार्यकाल 6 साल का रहा, लेकिन इन 6 सालों के कार्यकाल में दोनों स्थलों में किसी बदलाव की कोशिश नहीं की गई। इस बार सरकार का एजेंडा ऐसा ही नजर आ रहा है। बता दें कि सरकार तीन मूर्ति भवन में सभी प्रधानमंत्रियों के लिए म्यूजियम बनाने पर विचार कर रही है। दिल्ली में स्थित तीन मूर्ति भवन जवाहर लाल नेहरू का निवास था। देश के पहले प्रधानमंत्री के निधन के बाद इसे म्जूजियम में तब्दील कर दिया गया। मनमोहन ने अपने खत में लिखा है कि नेहरू की महानता को उनके राजनीतिक विरोधी भी स्वीकार करते थे। इतिहास का सम्मान करते हुए तीन मूर्ति भवन जैसा है, हमें उसे वैसा ही रहने देना चाहिए।

कमेंट करें
s6y9R