दैनिक भास्कर हिंदी: शहीद जवान की बेटी को 1 साल बाद भी है पिता के लौटने का इंतजार, बोली अब कहीं नहीं जाने दूंगी

September 10th, 2018

हाईलाइट

  • शहीद जवान की बेटी को 1 साल बाद भी पिता के लौटने का इंतजार
  • मासूम जोहरा बोली पिता को अब कहीं नहीं जाने दूंगी
  • पुलिस जवान शाह की आतंकियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी

डिजिटल डेस्क, श्रीनगर। सरहद की हिफाजत करते और आंतंकियों से जूझते हुए हर साल हजारों सैनिक शहीद हो जाते हैं। ऐसे ही पिछले साल एएसआई अब्दुल रशीद शाह आतंकियों की गोली का शिकार हो गए थे। शाह की आठ साल की बेटी जोहरा आज भी अपने पिता के घर लौटने का इंतजार कर रही है, जोहरा कहती है कि पापा आएंगे तो उन्हे कहीं नहीं जाने देगी। दरअसल शाह के परिवार वालों ने अबतक जोहरा को यह दिलासा दी हुई है कि उसके पापा घर वापस आएंगे।

बेटी को नहीं पता पापा शहीद हो गए
8 साल की मासूम जोहरा को उसके पिता की शहादत की खबर देने की हिम्मत परिवार वाले अबतक नहीं जुटा पाए हैं। पुलिस के सहायक उप निरीक्षक अब्दुल रशीद शाह की अनंतनाग जिले में  28 अगस्त 2017 को आतंकियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। इसके बाद जोहरा की रोती हुई तस्वीर ने सभी को झकझोर दिया था।

जोहरा पूछती है पापा कब आएंगे
शहीद जवान की बड़ी बेटी बिल्किस ने बताया कि जोहरा अक्सर पूछती रहती है कि उसके पिता कहां गए हैं, वो उदास रहती है। हमें उसे आश्वासन देना पड़ता है कि वह हज पर गए हैं और जल्द ही लौटेंगे। जोहरा के चेहरे पर खुशी लौटाने के लिए मुझे और मेरी अम्मी नसीमा को काफी कोशिश करनी पड़ी है।

 

खबरें और भी हैं...