यूक्रेन-रूस संकट: यूक्रेन से लौटने के बाद बोले एमबीबीएस के छात्र, चारों तरफ सैनिक दिखे

February 22nd, 2022

हाईलाइट

  • राजस्थान के तीन छात्र यूक्रेन से रेगिस्तानी राज्य में लौटे

डिजिटल डेस्क, जयपुर। राजस्थान के तीन छात्र, (जो यूक्रेन में एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहे थे) रेगिस्तानी राज्य में लौट आए हैं और कहा है कि उन्हें सामान्य हवाई किराए का तीन गुना भुगतान किया, क्योंकि पूर्वी यूरोपीय देश में स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है और चारों ओर सैनिक दिखाई दे रहे हैं। तीन छात्र राजस्थान के झालावाड़ जिले के लोकेश मीणा, राजकुमार मीणा और लक्ष्य राजावत हैं। बच्चों को घर लौटते देख उनके माता-पिता की आंखों में आंसू आ गए।

लक्ष्य की मां मधु कुंवर राजावत ने कहा, मैं सरकार से अतिरिक्त कम लागत वाली उड़ानों की व्यवस्था करने का अनुरोध करती हूं, ताकि अन्य छात्र भी वापस आ सकें। उनके माता-पिता भी हमारी तरह चिंतित होंगे।लक्ष्य ने कहा कि उसने यूक्रेन से भारत लौटने के लिए 23,000 रुपये के बजाय 62,000 रुपये खर्च किए। उन्होंने कहा, वहां स्थिति काफी तनावपूर्ण है, क्योंकि चारों ओर सैनिक हैं। हमारे परिवार के सदस्य तनाव में थे और इसलिए हमें किसी भी तरह से लौटने के लिए कहा। हालांकि, कई अन्य छात्र हैं, जो वापस आना चाहते हैं, लेकिन टिकट की ज्यादा कीमत और सीमित सीटों के कारण असहाय हैं।

लोकेश ने कहा कि यूक्रेन में फंसे सभी छात्र भारत लौटना चाहते हैं, लेकिन ज्यादा हवाई किराए के कारण नहीं आ पर रहे हैं। उसने बोला, वे सामान्य किराए से चार गुना अधिक कीमत वाले टिकट नहीं खरीद सकते हैं। इसलिए समय की आवश्यकता उड़ान दरों को कम करने की है। इसलिए छात्र तनाव में हो रहे हैं।

पूर्वी यूरोपीय देश और रूस के बीच तनाव बढ़ने के बाद मंगलवार को सरकार ने भारतीय छात्रों को अपनी सुरक्षा के हित में यूक्रेन छोड़ने की सलाह दी थी। पिछले एक हफ्ते में जारी की गई यह तीसरी ऐसी एडवाइजरी थी। यूक्रेन में भारतीय दूतावास ने अपने सोशल मीडिया हैंडल पर पोस्ट किए गए एक संक्षिप्त बयान में कहा कि छात्रों को उनकी सुरक्षा के हित में, विश्वविद्यालयों से आधिकारिक पुष्टि की प्रतीक्षा करने के बजाय अस्थायी रूप से यूक्रेन छोड़ने की सलाह दी गई है।

(आईएएनएस)

खबरें और भी हैं...