दैनिक भास्कर हिंदी: मुफ्ती ने अमित शाह पर साधा निशाना, कहा- वोट के लिए कुछ भी कर सकते हैं बीजेपी अध्यक्ष

April 12th, 2019

हाईलाइट

  • महबूबा मुफ्ती ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और बीजेपी पर निशाना साधा है।
  • महबूबा ने कहा कि वोट पाने के लिए अमित शाह द्वारा इस्तेमाल की जा रही भाषा सही नहीं है।
  • मुफ्ती ने कहा कि जम्मू-कश्मीर ने संस्कृति को ध्यान में रखते हुए भारत में शामिल हुआ था।

डिजिटल डेस्क, श्रीनगर। जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के NRC को लेकर दिए गए बयान पर निशाना साधा है। महबूबा ने कहा कि 'लोकसभा चुनाव में वोट हासिल करने के लिए अमित शाह और उनके लोग जो भाषा इस्तेमाल कर रहे हैं वो सही नहीं है। भारत एक धर्मनिरपेक्ष देश है।' बता दें कि अमित शाह ने एक रैली के दौरान कहा था कि 'हम देश में NRC को जरूर लागू करेंगे। हम बुद्ध, हिंदुओं और सिखों को छोड़कर देश के हर एक घुसपैठियों को बाहर निकाल देंगे।' 

 

 

महबूबा मुफ्ती ने कहा, 'जम्मू-कश्मीर ने अपनी धर्मनिरपेक्ष संस्कृति को ध्यान में रखते हुए भारत में शामिल होने का फैसला किया था। मुझे लगता है कि अमित शाह को इस देश के लोगों से माफी मांगनी चाहिए, क्योंकि इस देश की नींव धर्मनिरपेक्षता पर रखी गई थी। यह केवल हिंदू, सिख या मुस्लिम के लिए नहीं है, बल्कि यह देश सभी के लिए है। महबूबा ने कहा इस तरह के बयानों का मकसद देश की नींव को झकझोर कर रख देना है। बीजेपी इस देश की धर्मनिरपेक्ष संस्कृति पर हमला कर रही है।'

 

 

बता दें कि कश्मीर के सीनियर नेताओं महबूबा मुफ्ती, फारूक अब्दुल्ला और उमर अब्दुल्ला को आगामी लोकसभा चुनाव में भाग नहीं लेने देने और उनपर प्रतिबंध लगाने के लिए सोमवार को दिल्ली उच्च न्यायालय में PIL दायर की गई थी। इसके खिलाफ महबूबा ने एक विवादित बयान देते हुए कहा था कि BJP आर्टिकल 370 और 35A हटाने की बात कह रही है। ऐसा होने पर हम खुद चुनाव नहीं लड़ पाएंगे और इस हक से वंचित रह जाएंगे। ऐसा इसलिए क्योंकि भारतीय संविधान जम्मू-कश्मीर पर लागू नहीं हो सकेगा। ना समझोगे तो मिट जाओगे ऐ हिंदुस्तान वालों। तुम्हारी दास्तान तक भी न होगी दास्तानों में।

खबरें और भी हैं...