comScore

संजय निरुपम के बिगड़े बोल, पीएम मोदी को कहा- अनपढ़ गंवार

September 13th, 2018 10:41 IST
संजय निरुपम के बिगड़े बोल, पीएम मोदी को कहा- अनपढ़ गंवार

हाईलाइट

  • संजय निरुपम ने पीएम मोदी को बताया अनपढ़-गंवार
  • कांग्रेस नेता ने मोदी पर बनी शॉर्ट फिल्म स्कूलों में दिखाने पर दिया विवादित बयान
  • संजय निरुपम ने कहा- ऐसे लोगों के बारे में पढ़कर बच्चों को कुछ हासिल नहीं होगा

डिजिटल डेस्क, मुंबई। अक्सर विवादित बयानों के लिए चर्चा में रहने वाले कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने एक बार फिर विवादित टिप्पणी की है। उन्होंने पीएम मोदी को अनपढ़-गंवार बताया है। मुंबई के स्कूलों में पीएम मोदी पर बनी शॉर्ट फिल्म 'चलो जीत है' की स्क्रीनिंग पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस नेता ने यह टिप्पणी की है।

निरुपम ने कहा है, 'जो बच्चे स्कूल, कॉलेजों में पढ़ रहे हैं, उन्हें मोदी जैसे अनपढ़-गंवार के बारे में जान कर क्या मिलने वाला है? ऐसों के बारे में जानकर बच्चों को कुछ हासिल नहीं होने वाला है।' उन्होंने ये भी कहा कि ये बहुत शर्मनाक बात है कि आज तक हमारे देश के नागरिक और बच्चों को पता ही नहीं है कि पीएम की डिग्री कितनी है?

यह पहली बार नहीं है जब किसी कांग्रेस नेता ने पीएम मोदी के खिलाफ कोई आपत्तिजनक बयान दिया है। गुजरात चुनाव से पहले वरिष्ठ कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने पीएम मोदी को नीच कहा था। इस बयान के कारण मणिशंकर अय्यर को कांग्रेस से 6 महीने से ज्यादा समय तक निष्कासन झेलना पड़ा था।

गौरतलब है कि पीएम नरेंद्र मोदी की शैक्षणिक डिग्री को लेकर पहले भी कई बार विवाद हुआ है। विपक्षी दल अक्सर पीएम मोदी की शैक्षणिक योग्यता को लेकर सवाल उठाते रहे हैं। आधिकारिक जानकारी के अनुसार पीएम मोदी दिल्ली यूनिवर्सिटी से बीए पास हैं। हालांकि एक शख्स ने दो साल पहले जब सूचना के अधिकार के तहत दिल्ली यूनिवर्सिटी से पीएम नरेंद्र मोदी की बीए की मार्कशीट की जानकारी मांगी थी तो इस पर उसे सूचना नहीं मिल पाई थी।

कमेंट करें
xeT6J
NEXT STORY

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। टोक्यो ओलंपिक का काउंटडाउन शुरु हो चुका हैं। 23 जुलाई से शुरु होने जा रहे एथलेटिक्स त्यौहार में भारतीय दल इस बार 120 खिलाड़ियों के साथ 18 खेलों में दावेदारी पेश करेगा। बता दें 81 खिलाड़ियों के लिए यह पहला ओलंपिक होगा। 120 सदस्यों के इस दल में मात्र दो ही खिलाड़ी ओलंपिक पदक विजेता हैं। पी.वी सिंधू ने 2016 रियो ओलंपिक में सिल्वर तो वहीं मैराकॉम ने 2012 लंदन ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया था।

भारत पहली बार फेंनसिग में चुनौता पेश करेगा। चेन्नई की भवानी देवी पदक की दावेदारी पेश करेंगी। भारत 20 साल के बाद घुड़सवारी में वापसी कर रहा है, बेंगलुरु के फवाद मिर्जा तीसरे ऐसे घुड़सवार हैं जो ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे। 

olympic

युवा कंधो पर दारोमदार

टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने जा रहे भारतीय दल में अधिकतर खिलाड़ी युवा हैं। 120 खिलाड़ियों में से 103 खिलाड़ी 30 से भी कम आयु के हैं। मात्र 17 खिलाड़ी ही 30 से ज्यादा उम्र के होंगे। 

भारतीय दल में 18-25 के बीच 55, 26-30 के बीच 48, 31-35 के बीच 10 तो वहीं 35+ उम्र के 7 खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं। इस लिस्ट में सबसे युवा 18 साल के दिव्यांश सिंह पंवार हैं, जो शूटिंग में चुनौता पेश करेंगे, तो वहीं सबसे उम्रदराज 45 साल के मेराज अहमद खान होंगे जो शूटिंग में ही पदक के लिए भी दावेदार हैं।