दैनिक भास्कर हिंदी: भारत की गिरफ्त में जैश आतंकी निसार अहमद तांत्रे, CRPF पर हमले में थी तलाश

April 3rd, 2019

हाईलाइट

  • UAE ने जैश के आतंकी निसार अहमद तांत्रे को भारत को सौंपा।
  • दिल्ली एयरपोर्ट से NIA ने किया गिरफ्तार।
  • 2017 में CRPF कैंप पर हमले का साजिशकर्ता है निसार अहमद।

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के लैथापोरा में CRPF कैंप पर हमले के मास्टरमाइंड को NIA ने गिरफ्तार कर लिया है। संयुक्त अरब अमीरात (UAE) ने पाकिस्तानी आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी निसार अहमद तांत्रे को भारत को सौंपा है। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने निसार अहमद को दिल्ली एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया। 2017 में हमले के बाद से निसार अहमद फरार था। UAE से डिपोर्ट होने के बाद रविवार रात उसकी गिरफ्तारी हुई।

जैश-ए-मोहम्मद का यह आतंकी जम्मू-कश्मीर के लेथपोरा स्थित सीआरपीएफ कैंप पर दिसंबर 2017 में हमले का मुख्य साजिशकर्ता है। 30-31 दिसंबर, 2017 की रात हुए आतंकी हमले में पांच सुरक्षाकर्मी शहीद हो गए थे। तब तीनों हमलावरों को मार गिराया गया था। हमले का मुख्य आरोपी निसार अहमद तांत्रे 1 फरवरी 2019 को UAE भाग गया था। 
 

NIA कर रही लेथपोरा हमले की जांच  
आतंकी निसार अहमद तांत्रे जैश के दक्षिणी कश्मीर के डिविजनल कमांडर नूर तांत्रे का भाई है। सरकार ने उसे 31 मार्च को यूएई से प्रत्यर्पित किया। निसार को रविवार को विशेष विमान से दिल्ली लाया गया और यहां उसे NIA को सौंप दिया गया। बता दें कि, NIA लेथपोरा हमले की जांच कर रही है। NIA कोर्ट के स्पेशल जज ने निसार अहमद के खिलाफ अरेस्ट वॉरंट जारी किया था, जिसके आधार पर उसे UAE से डिपोर्ट करवाया जा सका। गौरतलब है कि नूर तांत्रे को 2017 में ही पुलवामा में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में मार गिराया गया था। 

हमले के आरोपी एक आतंकी को फरवरी में किया था गिरफ्तार
इससे पहले लेथपोरा केस में ही पुलवामा के अवंतिपुरा निवासी फय्याज अहमद मैग्रे को फरवरी में गिरफ्तार किया जा चुका था। हमले में जिन तीन आतंकियों को मार गिराया गया था, उनकी पहचान त्राल निवासी फरदीन अहमद खांडे, पुलवामा के द्रुबग्राम निवासी मंजूर बाबा और पाकिस्तानी आतंकवादी अब्दुल शकूर के रूप में हुई थी। शकूर पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर के रावलकोट का रहने वाला था। फरवरी में एनआई ने जिस आतंकवादी फय्याज को गिरफ्तार किया, वह जैश का सक्रिय सदस्य था। उसी ने हमले में शामिल आतंकियों को छिपने का ठिकाना, हथियार और खुफिया जानकारियां मुहैया कराई थी।

दो लाख का ईनामी आतंकी हुआ था गिरफ्तार
हाल ही में दिल्ली पुलिस ने श्रीनगर से जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकी को गिरफ्तार किया था। आतंकी पर दो लाख रुपए का इनाम था। स्पेशल सेल की सूचना पर जैश के सदस्य फैयाज अहमद लोन को शनिवार को गिरफ्तार किया गया था।