दैनिक भास्कर हिंदी: NIA ने ढूंढा जम्मू-श्रीनगर हाइवे पर आतंकियों का सबसे बड़ा ठिकाना, सर्च ऑपरेशन शुरू

February 16th, 2019

हाईलाइट

  • 20 से 25 किलोमीटर के इलाके में सुरक्षाबलों का ऑपरेशन शुरू
  • एनआईए का अनुमान, कई आतंकी छिपे हो सकते हैं इलाके में
  • विस्फोट करने वाले आदिल डार को इस जगह पर ही मिली थी ट्रेनिंंग

डिजिटल डेस्क, श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में CRPF के काफिले पर हुए हमले के बाद सुरक्षा एजेंसियां एक्शन मोड में आ गई हैं। राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (NIA) ने जम्मू-श्रीनगर नेशनल हाईवे पर 20 से 25 किलोमीटर के इलाके में आतंकियों हॉट बेड ढूंढ निकाला है, हॉट बेड का मतलब होता है, आतंकियों का वह इलाका जहां सालों से वो अपनी जड़े जमाए बैठे हैं। 

सुरक्षा एजेंसियों और सेना की नजर अब इस इलाके पर ही है। एनआईए के मुताबिक इस इलाके में कई आतंकी छिपे हो सकते हैं। पम्पोर से पुलवामा के बीच आतंकियों का ये हॉट बेड मौजूद है। इनके बीच में पड़ने वाले गांवों में सुरक्षा बलों ने तलाशी अभियान शुरू कर दिया है। 

सुरक्षाबलों को हमले के मुख्य सूत्रधार कामरान और राशिद गाजी की तलाश है। माना जा रहा है कि फिदायीन हमला करने वाले आदिल डार को राशिद गाजी ने ही विस्फोट करने और विस्फोटक को लगाने की ट्रेनिंग दी थी। अफगानिस्तान में मुजाहिदीन रह चुके गाजी को आईईडी ब्लास्ट का एक्सपर्ट माना जाता है। इससे पहले 11 फरवरी को पुलवामा के रत्नीपुरा गांव में राशिद गाजी की सेना के साथ मुठभेड़ हो चुकी है, लेकिन उस दौरान वो बचकर भागने में कामयाब हो गया था। 

सेना ने पिछले कुछ सालों में हुए हमलों की मैपिंग की तो पता चला कि 2014 से 2018 के बीच इस इलाके में 10 बार हमले हुए हैं। एनआईए पुलवामा से पंपोर के बीच मोबाइल टॉवर्स से संदिग्ध कॉल कि जानकारी भी निकाल रही है। पुलवामा में सीआरपीएफ पर हुए हमले के दो दिन पहले से आने वाले इंटरनेट कॉल और टेलीग्राम मैसेज को खासतौर पर खंगाला जा रहा है।

 

 

खबरें और भी हैं...