दैनिक भास्कर हिंदी: BJP का साथ नहीं छोड़ेंगे नीतीश, लोकसभा चुनाव के लिए दिया 17-17 सीट का फॉर्मूला

July 8th, 2018

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने जेडीयू और बीजेपी के बीच गठबंधन को लेकर चल रही अटकलों पर विराम लगा दिया है। नीतीश ने साफ कर दिया है कि वो बीजेपी का साथ नहीं छोड़ेंगे। दिल्ली में जेडीयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक से पहले नीतीश कुमार ने कहा दोनों पार्टियों के बीच गठबंधन जारी रहेगा। इसके साथ ही उन्होंने 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव के मद्देनजर 17-17 सीटों पर लड़ने का फॉर्मूला दिया है।

 

 

आज दिल्ली में स्थित बिहार भवन में जेडीयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक हो रही है। इस बैठक में पार्टी के महासचिव और सचिव समेत वरिष्ठ नेताओं ने तय किया है कि जेडीयू की तरफ से नीतीश कुमार जो भी फैसला लेंगे वह पार्टी नेताओं को मान्य होगा। बैठक में मौजूद अधिकांश नेता, नीतीश कुमार के इस प्रस्ताव से सहमत थे कि बिहार में बीजेपी के साथ गठबंधन बरकरार रहना चाहिए। 

 

बैठक से पहले लगाई जा रहीं थी ये अटकलें

बैठक से पहले ऐसी अटकलें लगाई जा रही थी कि नीतीश, बीजेपी का साथ छोड़कर फिर से आरजेडी और कांग्रेस के साथ महागठबंधन में शामिल हो सकते हैं। हालांकि जेडीयू नेता इस बात को खारिज कर चुके हैं, लेकिन बीजेपी के साथ मतभेद होने के चलते अटकलों को पहले ज्यादा बल मिला था। कांग्रेस ने कई मौकों पर जेडीयू को महागठबंधन में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया जबकि आरजेडी प्रमुख लालू यादव के बेटे तेजस्वी ने गठजोड़ बहाल करने की बात को खारिज किया है।

 

अमित शाह बिहार में करेंगे नीतीश से  मुलाकात

गौरतलब है कि 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने बिहार की 40 लोकसभा सीटों में से 22 सीटों पर जीत हासिल की थी। JDU ने सिर्फ दो सीटें जीतीं थी। वहीं रामविलास पासवान की लोकजनशक्ति और उपेंद्र कुशवाहा की RLSP ने 6 और 3 सीटों पर जीत हासिल की थी। ये भी खबर है कि 12 जुलाई को बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह बिहार के दौरे पर होंगे इस दौरान वो नीतीश कुमार से भी मुलाकात करेंगे।