दैनिक भास्कर हिंदी: अब गुजरात में मॉब लिंचिंग: चोरी के शक में जेल से छूटे दो युवकों की हत्या

July 29th, 2018

हाईलाइट

  • गुजरात चोरी के शक में दो युवकों की पीट-पीटकर हत्या।
  • चोरी के शक में गांव वालों ने पीटा।
  • पुलिस मामले की जांच में जुटी ।

डिजिटल डेस्क, गांधीनगर। बिहार के बाद गुजरात में मॉब लिंचिंग का मामला सामने आया है। दाहोद स्थित काली मुहाड़ी गांव में 20 लोगों का एक समूह चोरी के इरादे से गया था। जिनमें से दो युवकों को ग्रामीणों ने पकड़ लिया था और उनकी जमकर पिटाई की। जिससे एक युवक की मौके पर मौत हो गई है। जबकि दूसरे युवक को गंभीर हालत में अस्पताल में दाखिल कराया गया। दोनों युवकों की पहचान 22 वर्षीय अजमल वोहनिया और 25 वर्षीय भारू मथुर पलास के रूप में हुई है। मृतक धानपुर के कुडार गांव का रहने वाला ​है जबकि घायल भारू आंबली खजुरिया के गबराडा का रहने वाला है। दोनों का पुराना क्रिमिनल रिकॉर्ड रहा है और कुछ दिन पहले ही इन्हें जेल से रिहा किया गया था। 

 

 

Image result for lynching stop

 

 

हालांकि इस मामले में अब तक किसी भी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। कंट्रोल रूम के इंचार्ज ने बताया पुलिस घटना स्थल पर तुरंत पहुंची और घायल शख्स को अस्पताल पहुंचाया। लिंचिंग में शामिल लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया गया है। गौरतलब है कि बीते दिनों देश में मॉब लिंचिंग की बढ़ती घटनाओं को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने पिछले दिनों सरकार को फटकार लगाई थी। चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने 17 जुलाई को कहा था, 'भीड़तंत्र द्वारा भयानक कृत्यों ’’को देश के कानून को कुचलने नहीं दिया जा सकता।