दैनिक भास्कर हिंदी: UP में ही रहेगा पतंजलि फूड पार्क, CM योगी ने की बाबा रामदेव से बात

June 6th, 2018

डिजिटल डेस्क, लखनऊ। बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि के साथ उत्तर प्रदेश सरकार का विवाद अब सुलझ गया है। पतंजलि को अब ग्रेटर नोएडा में मैगा फूड प्रोसेसिंग पार्क लगाने के लिए 91 एकड़ जमीन दी जाएगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश के बाद मुख्य सचिव ने इस मुद्दे पर  बैठक बुलाई और बैठक में यह फैसला लिया गया है। राज्य सरकार पतंजलि की शर्तों के मुताबिक नियमों में संशोधन करने के लिए तैयार हो गई है। 

पतंजलि के प्रवक्ता एसके तिजरावाला ने बताया कि, 'हम मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तरफ से दी गई सुनिश्चितता पर विश्वास करते हैं। मुख्यमंत्री ने खुद पतंजलि के मैनेजिंग डायरेक्टर आचार्य बालकृष्ण और बाबा रामदेव से बात करके सहयोग देने का भरोसा दिया है।' उन्होंने कहा कि पतंजलि फूड पार्क को ग्रेटर नोएडा में ही रखा जाएगा।

 


हालांकि इससे पहले पतंजलि आयुर्वेद के मैनेजिंग डायरेक्टर और पतंजलि योगपीठ के सह-संस्थापक आचार्य बालकृष्ण ने कहा था, 'प्रदेश सरकार के निराशाजनक रवैये को देखते हुए हम उत्तर प्रदेश में प्रस्तावित फूड पार्क को शिफ्ट कर रहे हैं। इससे राज्य के किसानों की स्थिति में कोई सुधार नहीं होने वाला है,' लेकिन अब यह विवाद सुलझता नजर आ रहा है।

बता दें कि 2016 में अखिलेश यादव के सीएम रहते हुए नोएडा में यमुना एक्सप्रेस-वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण में पतंजलि फूड पार्क का शिलान्यास किया गया था। अखिलेश सरकार में दावा किया गया था कि यह फूड पार्क शुरू होने से लगभग 10,000 लोगों को नौकरी मिल जाएगी। इस प्रॉजेक्ट में पतंजलि ग्रुप ने 1600 करोड़ रुपए निवेश करने की बात कही थी। इस यूनिट के शिलान्यास के समय पतंजलि की ओर से कहा गया था कि कंपनी बुंदेलखंड और पूर्वांचल में भी फूड प्रॉसेसिंग यूनिट लगाएगी। इस फैसले से राज्य को नुकसान होना तय है।