रानी कमलापति रेलवे स्टेशन: प्रधानमंत्री मोदी ने वर्ल्ड क्लास सुविधाओं से लैस रानी कमलापति स्टेशन का किया उद्घाटन, इन सुविधाओं से लेस है ये स्टेशन

November 15th, 2021

हाईलाइट

  • भोपाल सियासत की कमलापति अंतिम गोंड रानी

डिजिटल डेस्क, भोपाल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप मॉडल पर आधारित बने देश के पहले रेलवे स्टेशन का सोमवार को उद्घाटन किया। पीएम नरेंद्र मोदी ने इस स्टेशन का नाम बदलकर भोपाल सियासत की अंतिम गोंड रानी कमलापति के नाम पर कर दिया गया है। वर्ल्ड क्लास सुविधाओं से लैस इस स्टेशन को अब हबीबगंज के बदले रानी कमलापति के नाम जाना जाएगा।  इस स्टेशन पर दावा किया जा रहा है कि स्‍टेशन का री-डेवलपमेंट जर्मनी के हैडलबर्ग रेलवे स्‍टेशन की तर्ज पर किया गया है। रानी कमलापति रेलवे पर वो सभी सुविधाएं उपलब्ध होगी जो हैडलबर्ग स्टेशन पर मिलती है। रानी कमलापति रेलवे स्टेशन की बिल्डिंग को ग्लास से कवर किया गया है। टेम्परेचर को कंट्रोल करने के लिए छत पर इंसुलेटड शीटिंग की गई है। प्लेटफॉर्म के शेड पर सोलर पैनल भी लगाए गए हैं।

रानी कमलापति स्टेशन में  पैसेंजर सेग्रीगेशन का सिस्टम है। जिसमें  ट्रेन में चढ़ने और उतरने वाले रास्ते  यात्रिओं के लिए अलग-अलग है। ऐसे में दोनों यात्री कभी भी आपस में नहीं टकराएंगे।  नए स्टेशन में सिंगल पॉइंट पर सभी तरह की सुविधा है। एक ही जगह पर सिनेमा, होटल, फूड, शॉपिंग, हॉस्पिटल जैसी  बेहतरीन सुविधाएं  आने जाने वाले यात्रियों को मिलेगी। रानी कमलापति स्टेशन के एक नंबर प्लेटफॉर्म की तरफ कॉर्पोरेट बिल्डिंग और मिनी शॉपिंग मॉल  है। इस मॉल में होटल, रिटेल स्पेस और मल्टीप्लेक्स हैं। कॉर्पोरेट बिल्डिंग में कंपनियों के ऑफिस होंगे। वहीं 5 नंबर प्लेटफॉर्म की तरफ सुपर स्पेसिलिटी हॉस्पिटल और 5 स्टार होटल  है। मल्टी मोटर ट्रांसपोर्ट हब के कॉन्सेप्ट को यहां अपनाया गया है। यानी रेलवे स्टेशन, बस और मेट्रो स्टेशन की आपस में कनेक्टिविटी। इसी कॉन्सेप्ट के तहत स्टेशन को स्कायवॉक के जरिए तैयार हो रहे मेट्रो स्टेशन से जोड़ा जाएगा।

भोपाल में दो रेलवे स्टेशन है। हबीबगंज और भोपाल रेलवे स्टेशन। इनमें से मुख्य रेलवे स्टेशन भोपाल है। हबीबगंज रेलवे स्टेशन के ऑपरेशन का जिम्मा बंसल ग्रुप के पास है। बेहतर कनेक्टिविटी के लिए इसे मेट्रो स्टेशन से जोड़ा जाएगा स्टेशन पर मौजूद इमरजेंसी इंटरकॉम कॉलर्स को सीधे ट्रिपल-एस सेंटर से जोड़ता है। अन्य सुरक्षा उपकरण भी स्टेशन पर मौजूद है।
रानी कमलापति  रेलवे स्टेशन पर 162 हाई रिजोल्यूशन कैमरे लगे हैं। जिनके जरिए कंट्रोल रूम में बैठकर पूरे स्टेशन पर एक साथ नजर रखी जा सकेंगी।  है।  फायर डिटेक्टर और सुरक्षा से संबंधित सुविधाएं है। और उसे जुड़े अन्य उपकरण भी यहां इन्स्टॉल किए गए हैंएयरपोर्ट टर्मिनल्स पर जिस तरह की शॉप्स होती है उसी तरह की सुविधाओं के लिए यहां रिटेल स्पेस का प्रोविजन किया गया है। रानी कमलापति (हबीबगंज) पहुंचने वाले यात्रियों के बाहर निकलने के लिए अंडरग्राउंड सब-वे बनाया गया है।


 

 

खबरें और भी हैं...