दैनिक भास्कर हिंदी: मेहुल चोकसी का CBI को खत- दिल की बीमारी की वजह से नहीं आ सकता भारत

March 8th, 2018

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। पंजाब नेशनल बैंक (PNB) में हुए 12700 करोड़ रुपए के घोटाले के आरोपी मेहुल चोकसी ने इस मामले में पहली बार अपनी चुप्पी तोड़ते हुए CBI को एक खत लिखा है। उन्होंने ख़त में खराब स्वास्थ्य की वजह बताते हुए भारत आने से इनकार कर दिया है। उन्होंने बताया है, 'मैं पुरानी स्वास्थ सम्बंधित समस्या के कारण यात्रा करने में असमर्थ हूं। अभी हाल ही में मेरे दिल का इलाज हुआ है।' बता दें कि मेहुल चोकसी हीरा कारोबारी नीरव मोदी के सहयोगी और रिश्तेदार हैं, जिनके ऊपर करीब साढ़े बारह हजार करोड़ रुपए के घोटाले का आरोप है।

पूछा - मैं देश की सुरक्षा में खतरा कैसे ? 
मेहुल ने अपने ख़त में आगे लिखते हुए CBI से अपना पासपोर्ट निलंबित करने की वजह पूछी है। उन्होंने लिखा है, 'मेरा पासपोर्ट सस्पेंड है। मैं एक और बात स्पष्ट करना चाहूंगा कि मुंबई पासपोर्ट ऑफिस ने मुझे अब तक पासपोर्ट सस्पेंड करने की कोई वजह नहीं बताई है। मुझे ये भी नहीं बताया गया है कि मैं किस तरह भारत की सुरक्षा के लिए खतरा हूं।' बता दें कि मेहुल चोकसी के नाम पर जांच एजेंसी ने गैर जमानती वारंट जारी कर रखा है। इससे पहले प्रवर्तन निदेशालय दोनों आरोपियों को तलब कर चुका है। हालांकि दोनों हीरा व्यापारी प्रवर्तन निदेशालय के समक्ष पेश नहीं हुए हैं।

देश से फरार चल रहे हैं दोनों आरोपी 
बता दें कि फरवरी के शुरुआती हफ्ते में ही पंजाब नेशनल बैंक में साढ़े बारह हजार करोड़ रुपए के घोटाले का खुलासा हुआ था। इसमें नीरव मोदी और मेहुल चोकसी मुख्य आरोपी हैं। घोटाले के ये दोनों मुख्य आरोपी वर्तमान में देश से बाहर हैं। नीरव मोदी पहले ही CBI और प्रवर्तन निदेशालय (ED) को जांच में सहयोग करने की बात से मना कर चुके हैं।इससे पहले, प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने गुरुवार को नीरव मोदी और मेहुल चोकसी की 62 अचल संपत्तियां अटैच की थीं, जिनकी कीमत करीब 1800 करोड़ रुपए बताई गई थी।