comScore

Coronavirus : विदेश मंत्रालय ने कहा- केंद्र ने चीन में फंसे भारतीयों को निकालने की तैयारी शुरू की

Coronavirus : विदेश मंत्रालय ने कहा- केंद्र ने चीन में फंसे भारतीयों को निकालने की तैयारी शुरू की

हाईलाइट

  • केंद्र ने चीन के वुहान में फंसे भारतीयों को निकालने की तैयारी शुरू कर दी
  • कोरोनावायरस कa फैलने से रोकने के लिए चीन ने कई शहरों को सील कर दिया
  • शहर सील होने से कई भारतीय चीन में फंस गए हैं

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। विदेश मंत्रालय ने मंगलवार को कहा कि केंद्र ने चीन के वुहान में फंसे भारतीयों को निकालने की तैयारी शुरू कर दी है, जो घातक नए कोरोनोवायरस के प्रकोप का केंद्र है। दरअसल चीन ने कोरोनावायरस के फैलने से रोकने के लिए कई शहरों को सील कर दिया है। किसी को भी शहर से बाहर जाने की अनुमति नहीं दी जा रही है। एयरपोर्ट को भी बंद किया गया है। इसी वजह से भारतीयों को वहां से निकालते के लिए विदेश मंत्रालय ने ये कदम उठाया है।

सोमवार को चीन से आए तीन भारतीयों को दिल्ली के राम मनोहर लोहिया (आरएमएल) अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अस्पताल की मेडिकल सुप्रीटेंडेंट डॉ. मिनाक्षी भारद्वाज ने कहा, 'कोरोनावायरस से जुड़े सर्जी और खांसी के लक्षणों के बाद वह खुद ही अस्पातल आए है जिसके बाद उन्हें भर्ती कर लिया गया है। इसके अलावा, महाराष्ट्र के पांच लोगों को भी कोरोनावायरस के संक्रमण की आशंका के चलते मुंबई के अस्पताल में भर्ती किया गया है। केरल में भी वुहान शहर से लौटे 430 से ज्यादा लोगों को निगरानी में रखा गया है।

विमान छात्रों को लाने के लिए तैयार
इस बीच, वुहान में जियांगान यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ मेडिसिन में लगभग 45 भारतीय मेडिकल छात्र, जो अपने छात्रावासों में फंसे हुए हैं, ने भारतीय अधिकारियों से तत्काल मदद मांगी है। एयर इंडिया के सूत्रों ने कहा कि एयरलाइन ने अपने 423 सीटों वाले जंबो विमान में से एक को मुंबई में तैयार रखा है जो आदेश मिलने पर वुहान शहर से भारतीयों को लाने के लिए पूरी तरह से तैयार है।

मरने वालों की संख्या बढ़कर हुई 106
बता दें कि चीन में कोरोनोवायरस के कारण मरने वालों की संख्या बढ़कर 106 हो गई है, जबकि वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 4,515 हो गई है। कोरोनोवायरस संक्रमण के प्रकोप के संबंध में बीजिंग में भारत के दूतावास की ओर से स्थापित की गई दो हॉटलाइन नंबरों पर बड़ी संख्या में कॉलों को देखते हुए, दूतावास ने तीसरा हॉटलाइन नंबर +8618610953903 खोला है। दो अन्य हॉटलाइन नंबर +8618612083629 और +8618612083617 है।

कोरोनावायरस का नया प्रकार
शोधकर्ताओं के अनुसार ये वायरस एक नए प्रकार का कोरोनावायरस है। 1960 के दशक में कोरोनावायरस पहली बार मनुष्यों में पाए गए थे। आम तौर पर इससे केवल बुखार, खांसी और सांस की तकलीफ जैसी शिकायतें होती है। हालांकि इस वायरस का नया रूप काफी घातक है। अधिकारियों का मानना ​​है कि 11 मिलियन लोगों के शहर में हुआनान सीफूड होलसेल मार्केट प्रकोप का केंद्र है। इसे 1 जनवरी को बंद कर दिया गया था।

वायरस से खुद को कैसे सुरक्षित रखें?
यूएस सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) ने बयान जारी करते हुए यात्रियों को वुहान में जानवरों के बाजारों में जाने से बचने की सलाह दी है। इसके अलावा ये भी कहा गया है कि वह बिना पका मीट न खांए। लोगों से कहा गया है कि वह इस रोग से संक्रमित लोगों के संपर्क में आने से बचे और अपने हाथों को साबुन और पानी से बार-बार धोए। 

कमेंट करें
uxyfl