दैनिक भास्कर हिंदी: काशी के हालात से रूबरू हुए प्रधानमंत्री, घंटों चली गहन समीक्षा

June 19th, 2020

हाईलाइट

  • काशी के हालात से रूबरू हुए प्रधानमंत्री, घंटों चली गहन समीक्षा

वाराणसी, 19 जून (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के हालात से रूबरू होने के लिए इस बार वीडियो कांफ्रेंसिंग को माध्यम बनाया। उन्होंने शुक्रवार को करीब ढाई घंटे से अधिक समय तक यहां की स्थिति की गहन समीक्षा की।

वीडियो कांफ्रेंसिंग में मंडलायुक्त दीपक अग्रवाल, जिलाधिकारी कौशलराज शर्मा, नगर आयुक्त गौरांग राठी के अलावा प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र के विधायकों ने भी अपनी बात रखी।

उन्होंने लॉकडाउन के दौरान जनपद में कोरोना संक्रमितों के इलाज, उन्हें खोजने, लोगों को खाद्यान्न पहुंचाने के कार्यो के विषय में भी जाना। कमिश्नरी स्थित एनआइसी सेंटर में जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने प्रस्तुति दी। इसके बाद कमिश्नर अग्रवाल ने विकास व निर्माण परियोजनाओं की प्रगति की रिपोर्ट प्रस्तुत की।

प्रधानमंत्री ने श्रीकाशी विश्वनाथ धाम कॉरिडोर, रिंग रोड और सड़क की अन्य योजनाओं के विषय में पूछताछ की। साथ ही उन्होंने लॉकडाउन के बाद विकास कार्यो को तेज करने का निर्देश दिया और कहा कि एक तो लॉकडाउन की वजह से देरी हुई है, दूसरे बहुत सारे लोग बेरोजगार हुए हैं, ऐसे में योजनाओं को तेजी से शुरू करने से जहां लोगों को रोजगार मिलेगा, वहीं समय से उन्हें पूरा करने में सहूलियत होगी।

मोदी ने जिलाधिकारी से नीति आयोग के पायलट प्रोजेक्ट के रूप में सेवापुरी को 90 दिनों में आदर्श ब्लॉक बनाने की योजना की तैयारियों के बारे में पूछा। जिलाधिकारी ने बताया कि सेवापुरी विकास खंड में अब तक की स्थिति का आकलन कर आवश्यकताओं को चिन्हित कर लिया गया है। साथ ही वहां कर्मचारियों की नियुक्ति और विकास कार्यो की शुरुआत कर दी गई है। योजनाओं को पूरा करने के लिए 175 करोड़ रुपये की जरूरत होगी। उसका भी एस्टीमेट बना लिया गया है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, कोरोनाकाल में काशीवासियों ने धैर्य और मेहनत से एक-दूसरे का सहयोग किया। इससे साबित हो गया कि आपदा के समय में भी आंसू बहाना स्वभाव नहीं है। यह कार्य देश के लिए किसी नजीर से कम नहीं है। वाराणसी प्रशासन ने भी जनसहयोग के लिए बेहतरीन कार्य किया।

उन्होंने कहा कि यह देश में एक प्रयोग है, जिसे सफल बनाएं, ताकि इसे आधार बनाकर पूरे देश में लागू किया जा सके। इस योजना के तहत पूरे ब्लॉक को 31 अगस्त तक बिजली, पानी, सड़क, शिक्षा, स्वास्थ्य, केंद्र और राज्य की सभी योजनाओं को सभी पात्र लाभार्थियों तक पहुंचाने आदि कार्य से पूरी तरह संतृप्त किया जाएगा।

बैठक में मौजूद प्रदेश सरकार के राज्यमंत्री नीलकंठ तिवारी ने कहा कि लगभग ढाई घंटे की बातचीत में प्रधानमंत्री काशी के विकास कार्यो की प्रगति से काफी संतुष्ट नजर आए।

उन्होंने कहा, हमेशा की ही तरह प्रधानमंत्री मोदी ने अधिकारियों और हम सबसे विकास कार्यो के संबंध में सुझाव मांगे और काशी के नवनिर्माण को लेकर अपने बहुमूल्य सुझाव भी दिए।

इस दौरान रवींद्र जायसवाल, विधायक सुरेंद्र सिंह व सौरभ श्रीवास्तव, एमएलसी अशोक धवन व लक्ष्मण आचार्य मौजूद रहे।