comScore

त्रिपुरा के उदयपुर में बोले पीएम- कांग्रेस के लिए सत्ता पैसा कमाने का माध्यम

त्रिपुरा के उदयपुर में बोले पीएम- कांग्रेस के लिए सत्ता पैसा कमाने का माध्यम

हाईलाइट

  • पश्चिम बंगाल के कूच बिहार में बोले पीएम मोदी। 
  • नामुमकिन को मुमकिन आपके वोट ने बनाया।
  • सीएम ममता बनर्जी पर निशाना साधा, कहा- डर से दीदी की नींद उड़ी हुई है।

डिजिटल डेस्क, कोलकाता। लोकसभा चुनाव को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को देश के तीन अलग-अलग राज्यों में रैलियां करेंगे। पश्चिम बंगाल के कूचबिहार में पहली रैली को संबोधित करने के बाद पीएम ने त्रिपुरा के उदयपुर में रैली को संबोधित किया। यहां पीएम मोदी ने कांग्रस पर निशाना साधते हुए कहा, मध्यम वर्ग ने बीजेपी को जिताया था इसलिए कांग्रेस उन्हें सजा दे रही है। कांग्रेस के हाल के घोषणा पत्र में मध्यम वर्ग का जिक्र नहीं है। कांग्रेस चाहती है कि मध्यम वर्ग पर और टैक्स लगाए जाएं, क्या वह मध्यम वर्ग को खत्म करना चाहते हैं। बीजेपी ने न सिर्फ त्रिपुरा में चेहरा और सरकार बदली है, बल्कि और मजबूत विकल्प दिया है, मजबूत सरकार और दृष्टिकोण दिया है। पश्चिम बंगाल, त्रिपुरा के बाद पीएम मणिपुर के इंफाल में चुनावी सभा को संबोधित करेंगे।

पीएम ने कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए कहा, मध्यम वर्ग ईमानदार होता है। मध्यम वर्ग कानून का पालन करने वाला होता है। मध्यम वर्ग छोटे-मोटे हर टैक्स भरता है। उसी को खत्म कर दोगे तो देश का भला कैसे करोगे। कांग्रेस के लिए सत्ता पैसा कमाने का माध्यम होता है, हमारे लिए सत्ता सेवा करने का माध्यम है।

पीएम ने कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए कहा, मध्यम वर्ग ईमानदार होता है। मध्यम वर्ग कानून का पालन करने वाला होता है। मध्यम वर्ग छोटे-मोटे हर टैक्स भरता है। उसी को खत्म कर दोगे तो देश का भला कैसे करोगे। कांग्रेस के लिए सत्ता पैसा कमाने का माध्यम होता है, हमारे लिए सत्ता सेवा करने का माध्यम है। पीएम ने कहा, कांग्रेस पार्टी के 50 से 60 पेज के ढकोसला पत्र में एक बार भी मध्यम वर्ग का एक शब्द भी नहीं है। मध्यम वर्ग के प्रति इतनी नफरत और गुस्सा इसलिए है क्योंकि उनको लग रहा है कि मध्यम वर्ग ने मोदी को जिता दिया है। 

बंगाल में रैली के दौरान पीएम मोदी ने अपनी सरकार के कार्यों को गिनाने के साथ ही विपक्ष पर जमकर निशाना साधा। पीएम मोदी ने कहा, नामुमकिन को मुमकिन आपके वोट ने बनाया है। वहीं सीएम ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए पीएम ने कहा डर से दीदी की नींद उड़ी हुई है। 

कूचबिहार में रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा, 2014 से पहले आए दिन आतंकवादी हमले होते थे, वो कहां से आते थे, कौन उनको भेजता था, ये तब की सरकार को भी पता था। हमारे जांबाज़ सपूत तब की सरकार से बदला लेने के लिए कहते थे लेकिन सरकार के कदम फैसला लेने से पहले ही कांप जाते थे। पीएम ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए कहा, जब भारत अंतरिक्ष में महाशक्ति बन रहा है, तो दीदी को ये परेशान करता है। जब भारत आतंक पर सख्ती दिखाता है, तब दीदी को ये परेशान करता है। अब दीदी इतनी परेशान हैं कि दिन-रात एक ही बात कर रही हैं- मोदी हटाओ। मजबूत होते भारत से कुछ लोगों को कष्ट हो रहा है।

पीएम का ममता पर वार....

  • राजनीति में जमीन खिसकना क्या होता है, अगर किसी को समझना हो, तो दीदी की बौखलाहट, दीदी का गुस्सा, देखकर समझ सकता है। मुझ पर आजकल गालियों की जो बौछार हो रही है, चुनाव आयोग पर वो जिस तरह भड़ रही हैं, उससे भी पता चलता है कि दीदी कितनी डरी हुई हैं।
     
  • अपने राजनीतिक फायदे के लिए घुसपैठियों को बचाकर दीदी ने माटी के साथ भी विश्वासघात किया है। पश्चिम बंगाल के लोगों को टीएमसी के गुंडों के हवाले करके उन्होंने मानुष की सारी उम्मीदें तोड़ दी हैं, उसका जीवन मुश्किल में डाल दिया है।
     
  • दीदी अब ऐसे लोगों का साथ दे रही हैं जो भारत में दो प्रधानमंत्री चाहते हैं। क्या भारत में दो प्रधानमंत्री होने चाहिए?
     
  • दीदी पर आपने बहुत भरोसा किया था। लेकिन उन्होंने आपका वो भरोसा चकनाचूर कर दिया है।
     
  • पश्चिम बंगाल में बुआ-भतीजे का गठजोड़ इस महान धरती को गुंडों, घुसपैठियों, जानवरों और इंसानों के तस्करों, टोलाबाज़ों का गढ़ बनाने पर तुला हुआ है।
     
  • पश्चिम बंगाल में कम्यूनिस्टों के शासन के बाद इस तरह सरकार चलाई जाएगी, इसकी उम्मीद किसी को नहीं थी। मां शारदा को पूरा देश पूजता है, उनसे हम ज्ञान, सद्-बुद्धि मांगते हैं, लेकिन इन्होंने बंगाल को सारदा स्कैम से बदनाम कर दिया।
     
  • नारद मुनि तीनों लोकों में नारायण का जाप करते थे, लेकिन इन्होंने पश्चिम बंगाल की पहचान नारदा घोटाले से जोड़ दी।


पीएम ने कमल खिलाने की अपील करते हुए कहा... 

  • गरीब से गरीब की रसोई में भी गैस पर खाना बनेगा, ये भी पहले नामुमकिन लगता था, लेकिन अब मुमकिन है।
     
  • बांग्लादेश के साथ जमीन समझौता दशकों से लटका हुआ था। कूच बिहार के लिए ये कितना महत्वपूर्ण था। इस समझौते पर कभी अमल होगा, ये भी नामुमकिन लगता था, लेकिन ये भी मुमकिन हुआ।
     
  • गरीब से गरीब के पास भी अपना बैंक खाता होगा, अपना रुपे डेबिट कार्ड होगा, ये कभी नामुमकिन लगता था, लेकिन अब मुमकिन है।
     
  • पश्चिम बंगाल में जितना ज्यादा कमल खिलेगा, आपकी आवाज उतनी ज्यादा मजबूत होगी, आपके हक की लड़ाई उतनी ही ज्यादा आगे बढ़ेगी।
कमेंट करें
UIXYa