दैनिक भास्कर हिंदी: भारत बंद के दौरान घायल हुए राजेंद्र की मौत, आज होगा अंतिम संस्कार

April 16th, 2018

डिजिटल डेस्क, छिंदवाड़ा/सौंसर। दलित आंदोलन को लेकर 2 अप्रैल को हुए भारत बंद में करोड़ों रुपए की सार्वजनिक संपत्ति आग के हवाले कर दी गई थी। इस दौरान पूरे देश में करीब एक दर्जन से अधिक लोगों की मौत हुई थी। इस भारत बंद का सबसे ज्यादा असर मध्य प्रदेश में दिखाई दिया था। इसी दौरान मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा जिले में सौंसर के बोरगांव में मारपीट की एक बड़ी घटना भी हुई थी। जिसमें 35 वर्षीय राजेंद्र ओकटे गंभीर रूप से घायल हो गए थे। सोमवार को 14 दिन बाद इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई।

जानकारी के अनुसार 2 अप्रैल को भारत बंद के दौरान सौंसर के बोरगांव में मारपीट की घटना में घायल 35 वर्षीय राजेंद्र ओकटे का 14 दिन बाद सोमवार को निधन हो गया। राजेंद्र के निधन की खबर पहुंचते ही पूरा गांव शौक में डूबा है और ग्रामीण उनकी मौत को लेकर आक्रोशित है।

डीएसपी केके वर्मा ने बताया कि नागपुर के मेडिकल अस्पताल में 7.30 बजे राजेंद्र ने अंतिम सांस ली है। राजेंद्र का अंतिम संस्कार मंगलवार 16 अप्रैल को उनके ही गांव में किया जाएगा। इस दौरान गांव में शांति व्यवस्था बनाए रखने अन्य थानों से पुलिस बल तैनात किया जा रहा है।

7 आरोपी जेल गए
मामले में दोषी 7 आरोपियों को पुलिस ने एक सप्ताह पूर्व ही गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। इसमें जनपद उपाध्यक्ष प्रवीण बागडे व पूर्व जनपद अध्यक्ष निलेश गजभीय का समावेश है। थाना प्रभारी जीएस उईके ने बताया कि मामले में आरोपियों पर अब 302 की धारा लगाई जाएगी। पूर्व में आरोपियों पर धारा 147,148,149,294,452,307 आईपीसी के तहत मामला कायम हुआ है।

गौरतलब है कि घटना के दिन दुकान बंद नहीं करने वाले दुकानदारों के साथ प्रदर्शनकारियों ने मारपीट की थी। वहीं राजेंद्र पर प्राण घातक हमला किया था। घटना के बाद से गांव में प्रदर्शनकारियों के खिलाफ  तनाव का वातावरण बना हुआ है।