comScore

रजनीकांत ने कहा- 2021 के विधानसभा चुनावों में होगा चमत्कार

रजनीकांत ने कहा- 2021 के विधानसभा चुनावों में होगा चमत्कार

हाईलाइट

  • रजनीकांत ने गुरुवार को कहा की तमिलनाडु में 2021 के चुनावों में चमत्कार होगा
  • रजनीकांत मंत्री डी जयकुमार के बयान पर प्रतिक्रिया दे रहे थे
  • रजनीकांत अगले साल अपनी पार्टी लॉन्च कर सकते हैं

डिजिटल डेस्क, चेन्नई। अभिनेता रजनीकांत ने गुरुवार को एक बार फिर दोहराया की तमिलनाडु में 2021 में होने जा रहे विधानसभा चुनावों में चमत्कार होगा। रजनीकांत मंत्री डी जयकुमार के बयान पर प्रतिक्रिया दे रहे थे जिन्होंने कहा था कि तमिलनाडु में सांप्रदायिक, जातिगत और आध्यात्मिक राजनीति कभी नहीं चलेगी। रजनीकांत अगले साल अपनी पार्टी लॉन्च कर सकते हैं। उन्होंने पहले ही संकेत दिया था कि उनकी पार्टी 'आध्यात्मिक राजनीति' करेगी।

चेन्नई एयरपोर्ट पर संवाददाताओं से उन्होंने कहा, 'तमिलनाडु के लोग 100% सुनिश्चित करेंगे कि 2021 में राज्य में राजनीति में चमत्कार हो।' उन्होंने कमल हासन की पार्टी के साथ गठबंधन को लेकर कहा कि 'मुझे पहले अपनी राजनीतिक पार्टी लॉन्च करनी है, और मेरी पार्टी कैडर के साथ चर्चा होनी है कि मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार कौन होना चाहिए। इन जैसे फैसलों को केवल चुनावों के करीब लिया जा सकता है और तब तक मैं इस तरह के सवालों का जवाब नहीं दे सकता।'

इससे पहले रजनीकांत ने चेन्नई एयरपोर्ट पर मीडिया से संक्षिप्त बातचीत में कहा था, 'अगर ऐसी स्थिति पैदा हो जाती है, जिसमें मुझे और कमल हासन को तमिलनाडु के लोगों के कल्याण के लिए हाथ मिलाना पड़े, तो हम निश्चित रूप से एक साथ आएंगे।' वहीं कमल हासन ने भी कहा था 'मेरे और रजनीकांत के बीच एक नई बॉन्डिंग बनाने की कोई आवश्यकता नहीं है। हम करीब 44 साल से दोस्त हैं। अगर जरूरत पड़ी तो हम तमिलनाडु की बेहतरी के लिए साथ आएंगे।'

रजनीकांत ने 2019 के लोकसभा चुनावों में यह कहते हुए कोई उम्मीदवार नहीं उतारे थे कि उनकी नजर 2021 में तमिलनाडु विधानसभा चुनावों पर है। उन्होंने पिछले आम चुनाव में किसी भी पार्टी को अपना समर्थन नहीं दिया था। हालांकि हासन की मक्कल नीधि मय्यम (MNM) ने 40 लोकसभा सीटों में, तमिलनाडु में 39 और पुडुचेरी में एक सीट पर चुनाव लड़ा था। किसी भी सीट पर कमल हासन की पार्टी जीत हासिल नहीं कर पाई थी।

मुख्यमंत्री एडप्पादी के पलानीस्वामी ने कहा कि रजनीकांत को अभी भी अपनी पार्टी लॉन्च करना है और राजनीति में प्रवेश करने के बारे में सोचना है। मैं आश्चर्यचकित हूं कि वह किस आधार पर चमत्कार की बात कर रहे हैं। हो सकता है, रजनीकांत अन्नाद्रमुक की सत्ता में वापसी (2021 के विधानसभा चुनावों के बाद) को चमत्कार कह रहे हों।'

कमेंट करें
RWuKv