comScore

स्ट्रीट वेंडर्स को राहत पैकेज: रेहड़ी-पटरी वालों को 50 लाख वेंडर्स को 10 हजार रुपए तक का लोन देगी सरकार

स्ट्रीट वेंडर्स को राहत पैकेज: रेहड़ी-पटरी वालों को 50 लाख वेंडर्स को 10 हजार रुपए तक का लोन देगी सरकार

हाईलाइट

  • मुद्रा के तहत शिशु लोन भी मिलेगा, 3 करोड़ लोगों को फायदा होगा
  • पीएम मोदी ने 20 लाख करोड़ रुपए के आर्थिक पैकेज का ऐलान किया था

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। कोरोना महामारी के कारण रेहड़ी-पटरी पर सामान बेचने वालों (स्ट्रीट वेंडर्स) की आजीविका पर बुरा असर पड़ा है, जिस पर गौर करते हुए केंद्र सरकार ने गुरुवार को प्रभावित हुए लगभग 50 लाख वेंडरों को लाभान्वित करने के लिए पांच हजार करोड़ रुपये की विशेष ऋण सुविधा की घोषणा की। केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने गुरुवार को प्रेस वार्ता में कहा कि यह योजना एक महीने के भीतर शुरू की जाएगी।

मंत्री ने कहा कि जरूरतमंद विक्रेताओं को 10 हजार रुपए तक का ऋण दिया जाएगा। हालांकि, यह एक निश्चित राशि नहीं है और बैंकों के परामर्श के बाद ही यह तय होगी। उन्होंने कहा कि मॉनिटरी रिवार्डस (मौद्रिक पुरस्कारों) के माध्यम से डिजिटल भुगतान को प्रोत्साहित किया जाएगा और बेहतर पुनर्भुगतान व्यवहार के लिए वर्धित पूंजी ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। मंत्री ने कहा कि पांच हजार करोड़ रुपए की विशेष क्रेडिट सुविधा वाली इस योजना से लगभग 50 लाख स्ट्रीट वेंडर्स को लाभ प्राप्त होगा।

मुद्रा के तहत शिशु लोन भी मिलेगा
मुद्रा शिशु लोन के तहत 50 हजार तक के लोन पर 2% की छूट मिलेगी। इस स्कीम का लाभ 12 महीने तक दिया जाएगा। 3 करोड़ लोगों को इस स्कीम का फायदा होगा। 23-28 साल की उम्र के बीच का कोई भी व्यक्ति मुद्रा लोन के लिए आवेदन कर सकता है

पीएम मोदी ने 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज का ऐलान किया था 
गौरतलब है कि कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम के मद्देनजर लागू राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विभिन्न क्षेत्रों को बढ़ावा देने और किसानों व गरीबों की मदद करने के लिए 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज का ऐलान किया था। उसके दो दिन बाद अब वित्तमंत्री ने यह घोषणा की है। वर्तमान में लागू 40 दिनों से अधिक का 3.0 लॉकडाउन 17 मई को समाप्त हो रहा है।

कमेंट करें
uS2sn