दैनिक भास्कर हिंदी: सैटेलाइट तस्वीरों में दिख रहा कि चीन ने भारत में घुसपैठ की है : राहुल

June 21st, 2020

हाईलाइट

  • सैटेलाइट तस्वीरों में दिख रहा कि चीन ने भारत में घुसपैठ की है : राहुल

नई दिल्ली, 21 जून (आईएएनएस)। चीन के साथ वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर चल रहे तनाव के बीच कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर एक बार फिर निशाना साधते हुए कहा कि उपग्रह (सैटेलाइट) से प्राप्त तस्वीरों से पता चलता है कि चीन ने भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ की है।

राहुल गांधी ने एक ट्वीट में कहा, प्रधानमंत्री ने कहा -न कोई देश में घुसा, न ही हमारी जमीन पर किसी ने कब्जा किया, लेकिन उपग्रह से प्राप्त तस्वीरें साफ दिखाती हैं कि चीन ने पेंगॉन्ग झील के पास भारत माता की पावन धरती पर कब्जा कर लिया है।

राहुल गांधी ने ट्वीट के साथ एक टीवी चैनल द्वारा दिखाई गई एक तस्वीर का उपयोग किया।

इससे पहले रविवार को राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला करते हुए कहा था, नरेंद्र मोदी वास्तव में सरेंडर मोदी हैं।

राहुल गांधी सीमा विवाद और सैनिकों की मौत पर लगातार केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री से सवाल पूछ रहे हैं। इससे पहले उन्होंने पूछा था कि हमारे सैनिक सीमा पर निहत्थे क्यों थे। इसके बाद विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने जवाब देते हुए कहा था कि सैनिक निहत्थे नहीं थे, बल्कि उन्होंने पूर्व के समझौतों के तहत हथियारों का इस्तेमाल नहीं किया था।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने लद्दाख में चीन के साथ गतिरोध पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान को लेकर शनिवार को आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री ने भारतीय क्षेत्र चीन को सौंप दिया है।

उन्होंने ट्वीट किया, प्रधानमंत्री ने चीनी आक्रामकता के आगे भारतीय क्षेत्र चीन को सौंप दिया है। कांग्रेस नेता ने सवाल किया कि अगर यह भूमि चीन की थी तो हमारे सैनिक क्यों शहीद हुए? वे कहां शहीद हुए?

उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री मोदी ने भारत-चीन तनाव पर शुक्रवार को बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में कहा था कि न कोई हमारे क्षेत्र में घुसा और न ही किसी ने हमारी चौकी पर कब्जा किया है।

पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में 15 जून की रात को भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच एक अभूतपूर्व हिंसक झड़प हुई थी, जिसमें एक अधिकारी सहित 20 भारतीय जवान शहीद हो गए थे। इसके बाद से ही राहुल गांधी और तमाम विपक्ष केंद्र सरकार पर निशाना साध रहे हैं।