दैनिक भास्कर हिंदी: J&K : कुलगाम में हुए हिमस्खलन में 5 पुलिसकर्मी समेत 7 की मौत, 3 का रेस्क्यू

February 9th, 2019

हाईलाइट

  • कुलगाम जिले में जवाहर टनल के पास गुरुवार को हिमस्खलन की चपेट में आए 11 लोगों में से 7 की मौत हो गई है।
  • इनमें 5 पुलिसकर्मी भी शामिल है। सातों की बॉडी रेस्क्यू टीम ने रिकवर कर ली है।
  • एक पुलिसकर्मी अभी भी लापता है। जबकि तीन पुलिसकर्मियों को रेस्क्यू टीम ने शुक्रवार सुबह बचा लिया था।

डिजिटल डेस्क, श्रीनगर। कुलगाम जिले में जवाहर टनल के पास गुरुवार को हिमस्खलन की चपेट में आए 11 लोगों में से 7 की मौत हो गई है। इनमें 5 पुलिसकर्मी भी शामिल है। सातों की बॉडी रेस्क्यू टीम ने रिकवर कर ली है। एक पुलिसकर्मी अभी भी लापता है। जबकि तीन पुलिसकर्मियों को रेस्क्यू टीम ने शुक्रवार सुबह बचा लिया था जिनका अस्पताल में इलाज चल रहा है। इनकी हालत स्थिर बनी हुई है। जम्मू-कश्मीर पुलिस के साथ सेना और SDRF की टीम रेस्क्यू ऑपरेशन चला रही है।

जिन पुलिसकर्मियों को रेस्क्यू टीम ने सही सलामत बाहर निकाला है उनका नाम डॉग स्क्वाड के मोहम्मद खलील (SPO), गुलाम नबी उर्फ ​​गुलजार (305/K) और सिलेक्शन ग्रेड कॉन्सटेबल मोहम्मद मकबूल है। वहीं जिन सात बॉडी को रेस्क्यू टीम ने रिकवर किया है उनका नाम फ़ैयाज़ अहमद पर्रे (सिलेक्शन ग्रेड फायरमैन, बेल्ट नंबर 1571), फिरदौस अहमद (अग्निशमन सेवा के हेड कांस्टेबल, ड्राइवर नंबर 181), कॉन्सटेबल अरशद गुल (1000/KGM), हेड कॉन्सटेबल मुज़फ़्फ़र (125/KGM), शबनम (डॉग स्क्वाड) कोकरनाग, सालन तालाब उधमपुर के विक्रम सिंह (नागरिक), गुरदासपुर पंजाब के बलजीत सिंह (नागरिक)। पंजाब से इस जोड़ी को दो दिन पहले फ़ूक्की के साथ गिरफ्तार किया गया था।

एक पुलिसकर्मी, परवेज अहमद (220/KGM) अभी भी लापता है और रेस्क्यू टीम शनिवार को फिर से ऑपरेशन शुरू करेगा। उन्होंने बताया कि क्षेत्र में अंधेरे और खराब मौसम के कारण बचाव अभियान स्थगित कर दिया गया।

बता दें कि गुरुवार को हिमस्खलन जवाहर टनल के नॉर्थ पोर्टल के काजीगुंड साइड पर हुआ था। जब हिमस्खलन हुआ उस वक्त पुलिस चौकी पर करीब 21 लोग थे। उनमें से 10 सुरक्षित बाहर आ गए थे। इससे पहले दिन में, 78 परिवारों को जिले में हिमस्खलन प्रवण क्षेत्रों से सुरक्षित स्थानों पर शिफ्ट किया गया था। जम्मू कश्मीर के 22 जिलों में से 16 के लिए अगले 24 घंटे में हिमस्खलन की चेतावनी भी जारी की गई थी।

घाटी के अनंतनाग, बांदीपोरा, बारामूला, बडगाम, गांदरबल, कुलगाम और कुपवाड़ा जिलों में हाई डेंजर एवेलॉन्च की चेतावनी जारी की गई थी, जबकि मीडियम डेंजर की चेतावनी पुंछ, राजौरी, रामबन, रियासी, डोडा, किश्तवार, उधमपुर और लेह जिलों को जारी की गई थी। कारगिल जिले के लिए एक कम खतरे की चेतावनी जारी की गई थी।

खबरें और भी हैं...