comScore

यौन उत्पीड़नः चिन्मयानंद अस्पताल से डिस्चार्ज, भेजा गया शाहजहांपुर जेल


हाईलाइट

  • यौन उत्पीड़न मामले में आरोपी पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद को एसजीपीजीआई अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया
  • चेकअप के बाद चिन्मयानंद को शाहजहांपुर जेल भेज दिया गया

डिजिटल डेस्क, शाहजहांपुर। यौन उत्पीड़न मामले में आरोपी पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद को अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद शाहजहांपुर जेल भेज दिया गया। स्वामी चिन्मयानंद को सोमवार की शाम एसजीपीजीआई अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया। इसके बाद चिन्मयानंद को शाहजहांपुर जेल भेजा गया। चिन्मयानंद को 23 सितंबर को सीने में दर्द और लो ब्लड प्रेशर की शिकायत के बाद पीजीआई में भर्ती कराया गया था। चेकअप के बाद सोमवार की शाम उन्हें एसजीपीजीआई अस्पताल से डिस्चार्ज कर वापस पुलिस अभिरक्षा में भेज दिया गया।

बता दें कि, सितंबर महीने की शुरुआत में उनकी तबीयत बिगड़ने के बाद शाहजहांपुर सरकारी अस्पताल में भर्ती किया गया था। बाद में उन्हें पीजीआई और केजीएमयू में दाखिल किया गया। चिन्मयानंद को चेस्ट पेन की शिकायत होने पर लखनऊ एसजीपीजीआइ में भर्ती कराया गया था। पीजीआई के सीएमएस डॉ. अमित अग्रवाल ने चिन्मयानंद को अस्पताल से छुट्टी मिलने के बारे में जानकारी दी। चिन्मयानंद को 23 सितंबर को सीने में दर्द तथा लो ब्लड प्रेशर की शिकायत के बाद पीजीआई में भर्ती कराया गया था।

उन्होंने बताया कि उनकी एंजियोग्राफी की गई लेकिन कोई ब्लॉकेज नहीं पाया गया। स्वास्थ्य संबंधी अन्य समस्याओं के कारण वह अब तक पीजीआई में ही भर्ती थे। सीएमएस डॉ. अमित अग्रवाल के मुताबिक चिन्मयानंद की हालत सामान्य हो गई थी। ऐसे में चिकित्सकीय परामर्श देकर उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया है।

सोमवार को ही चिन्मयानंद और पीड़िता दोनों की जमानत याचिका खारिज हो गई। जनपद न्यायाधीश की अदालत में दोनों पक्षों की बहस के बाद जमानत अर्जी खारिज कर दी गई। इस मामले में चिन्मयानंद 20 सितंबर से न्यायिक हिरासत में हैं। वहीं पीड़ित छात्रा भी 25 सितंबर से न्यायिक हिरासत में है। चिन्मयानंद पर यौन शोषण व दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली छात्रा पांच करोड़ रुपये की रंगदारी मांगने के मामले में फंस गई है। एसआईटी ने छात्रा को गिरफ्तार करने के बाद कोर्ट में पेश किया था, जहां से 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया।

कमेंट करें
MDVvQ