दैनिक भास्कर हिंदी: राफेल पर शरद पवार का यू-टर्न, बोले- पीएम मोदी का समर्थन न कभी किया है, न करूंगा

October 2nd, 2018

हाईलाइट

  • राफेल मुद्दे पर पीएम मोदी के समर्थन में दिए बयान पर शरद पवार ने दी सफाई
  • शरद पवार बोले- पीएम मोदी का समर्थन न कभी किया है, न कभी करूंगा
  • शरद पवार ने यह भी कहा कि राफेल सौदे से सम्बंधित सारे कागजात JPC के सामने पेश किए जाने चाहिए

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। राफेल मुद्दे पर पीएम मोदी के समर्थन में पिछले दिनों दिए गए अपने बयान से राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) चीफ शरद पवार ने यू-टर्न ले लिया है। पवार ने कहा है, 'कुछ लोग कह रहे हैं कि मैं पीएम मोदी का समर्थन करता हूं, जबकि ऐसा नहीं है। मैंने पीएम मोदी का कभी सपोर्ट नहीं किया है और न करूंगा।' उन्होंने कहा कि सवाल यह उठता है कि राफेल विमान की कीमत 650 करोड़ रुपए से 1600 करोड़ कैसे हो गई? सरकार को इस पर संसद में स्पष्टीकरण देना चाहिए। यह जांच का विषय है और इस सौदे से सम्बंधित सारे कागजात संयुक्त संसदीय समिति (JPC) के सामने पेश किए जाने चाहिए। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि मेरे पास इस समय भी कोई पुख्ता सबूत नहीं है। इसलिए मैं प्रधानमंत्री या फिर किसी अन्य पर इस मामले में कोई आरोप नहीं लगा सकता हूं।

शरद पवार का यह बयान अपनी पार्टी के नेताओं की नाराजगी के बाद आया है। पिछले हफ्ते अपने बयान में राफेल डील पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बचाव करने के बाद पार्टी से जुड़े कुछ बड़े नेता उनसे नाराज हो गए थे। एनसीपी के संस्थापक सदस्य तारिक अनवर और पार्टी के महासचिव मुनाफ हकीम ने पवार के बयान से नाराज होकर इस्तीफा दे दिया था।

बता दें कि पिछले दिनों एक मराठी चैनल को इंटरव्यू देते हुए पवार ने कहा था कि वह नहीं समझते हैं कि फ्रांस से लड़ाकू विमान खरीदने को लेकर लोगों को मोदी की मंशा पर शक है। राफेल विमान के तकनीकी पहलुओं पर चर्चा कराने की विपक्ष की मांग को भी उन्होंने गलत बताया था। हालांकि, उन्होंने कहा था कि विमान के दामों का खुलासा करने में भी कोई नुकसान नहीं है। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने इसके लिए ट्वीट कर पवार को धन्यवाद भी दिया था। हालांकि NCP ने इसके तुरंत बाद शरद पवार के बयान पर सफाई दी थी। NCP प्रवक्ताओं की ओर से कहा गया था कि इस बयान का यह मतलब नहीं निकालना चाहिए कि शरद पवार ने राफेल सौदे पर पीएम मोदी को क्लीन चीट दी है।