comScore

Coronavirus: सोनिया की मोदी को चिट्ठी- लॉकडाउन का फैसला स्वागत योग्य, लागू हो न्याय योजना

Coronavirus: सोनिया की मोदी को चिट्ठी- लॉकडाउन का फैसला स्वागत योग्य, लागू हो न्याय योजना

हाईलाइट

  • सोनिया गांधी ने पीएम मोदी को चिट्ठी लिख कोरोना को लेकर व्यक्त की चिंता
  • 21 दिन के लॉकडाउन के फैसले को बताया सही
  • सोनिया ने आम मजदूरों के लिए पैकेज के ऐलान की भी बात कही

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस के प्रकोप के बीच कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने चिट्ठी लिखकर पीएम मोदी के लॉकडाउन के फैसले का समर्थन किया है, इसके साथ ही उन्होंने मोदी सरकार को EMI पर रोक लगाने और बैंकों द्वारा ब्याज माफ करने का सुझाव दिया है। सोनिया ने न्यूनतम आय गारंटी योजना (Nyay योजना) लागू करने की भी अपील की है।

दरअसल कोरोना संकट से निपटने के लिए पूरे देश में 21 दिन के लिए लॉकडाउन जारी है। सोनिया गांधी ने मोदी सरकार के इस फैसले का समर्थन किया है। सोनिया ने गुरुवार को पीएम नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखी है। चिट्ठी में सोनिया गांधी ने लिखा, कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए 21 दिनों के लॉकडाउन का फैसला स्वागत योग्य कदम है, हर कोई इस संकट में देश के साथ खड़ा है, लेकिन इसी के साथ देश में स्वास्थ्य के साथ-साथ इकॉनोमी के लिहाज से भी संकट काफी बड़ा है। सोनिया ने पीएम से डॉक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ की सुरक्षा के लिए कदम उठाने का आग्रह किया है। उद्योग के लिए राहत पैकेज और आम लोगों के लिए रिलीफ का सुझाव भी दिया है।

Lockdown: कोरोना से लड़ने के लिए योगी सरकार ने पान-मसाले पर लगाया बैन

सोनिया ने पीएम से आग्रह किया है कि, कोरोना से लड़ रहे चिकित्साकर्मियों के लिए एन-95 मास्क और दूसरे सभी स्वास्थ्य सुरक्षा उपकरण उपलब्ध कराए जाएं। मजदूरों और गरीबों को राहत देने के लिए न्याय योजना लागू कर उनके खातों में सीधी आर्थिक मदद भेजी जाए। उन्होंने ये भी कहा कि, इस समय न्याय योजना यानि न्यूनतम आय गारंटी योजना को लागू करना सबसे ज्यादा जरूरी है। क्योंकि जिन गरीबों पर इस महामारी की आर्थिक मार पड़ने वाली है, उन्हें न्याय योजना से सबसे अधिक राहत मिलेगी।

कमेंट करें
Yc3dQ