comScore

मोदी आज लेंगे शपथ, सोनिया- राहुल समेत कई देशों के नेता होंगे कार्यक्रम में शामिल


हाईलाइट

  • सोनिया गांधी, राहुल गांधी और गुलाम नबी आजाद नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण में शामिल होंगे
  • भाजपा ने आयोजन के लिए कई अन्य विपक्षी नेताओं को भी आमंत्रित किया है
  • मंगलवार को BIMSTEC देश के नेताओं ने कार्यक्रम में शामिल होने की पुष्टी की थी

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज अपने दूसरे कार्यकाल में सत्ता की कमान संभालेंगे। यूनाइटेड प्रोगेसिव अलायंस (UPA) की अध्यक्ष सोनिया गांधी, कांग्रेस प्रेसिडेंट राहुल गांधी, गुलाम नबी आजाद सहित अन्य विपक्षी दलों के नेता और 14 देशों के राष्ट्राध्यक्ष नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगे। इस समारोह के लिए भाजपा ने विपक्षी नेताओं के अलावा BIMSTEC देश के नेताओं को भी निमंत्रण भेजा था जिन्होंने मंगलवार को कार्यक्रम में शामिल होने की पुष्टी की थी। शपथ ग्रहण का यह कार्यक्रम राष्ट्रपति भवन में होगा।

बे ऑफ़ बंगाल इनिशिएटिव फ़ॉर मल्टी-सेक्टरल टेक्निकल एंड इकनॉमिक कोऑपरेशन  (BIMSTEC) के सदस्य देशों में भारत के अलावा बांग्लादेश, भूटान, म्यांमार, नेपाल, श्रीलंका और थाईलैंड हैं। बांग्लादेश के राष्ट्रपति मोहम्मद अब्दुल हमीद, श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना, म्यांमार के राष्ट्रपति यू विन म्यिंट, भूटान के प्रधानमंत्री लोटे तशेरिंग, नेपाल के प्रधानमंत्री के.पी. शर्मा ओली, और थाईलैंड के विशेष दूत ग्रिसडा बूनराच नई दिल्ली आएंगे। बिम्सटेक सदस्य राज्य के नेताओं के अलावा मॉरीशस के प्रधानमंत्री, प्रवीण कुमार जुगनौत के साथ किर्गिस्तान के राष्ट्रपति सोरांबने जेनेबकोव भी समारोह में शामिल होंगे।

नरेंद्र मोदी 30 मई को शाम 7 बजे राष्ट्रपति भवन में प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे। बताया जा रहा है कि ये राष्ट्रपति भवन में अब तक का सबसे बड़ा कार्यक्रम होगा जिसमें करीब 6000 लोग हिस्सा ले सकते हैं। प्रधानमंत्री के शपथ कार्यक्रम को देखते हुए वायु भवन, सेना भवन, रेल भवन डीआरडीओ, नॉर्थ ब्लॉक, साउथ ब्लॉक के दफ्तरों में दोपहर दो बजे ही छुट्टी घोषित की गई है। राजपथ, राष्ट्रपति भवन, नार्थ, और साउथ ब्लॉक के दफ्तरों की भी छुट्टी दोपहर 2 बजे होगी।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद पीएम और केंद्रीय मंत्रिपरिषद के अन्य सदस्यों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाएंगे। समारोह में शपथ ग्रहण के बाद मेहमानों के लिए एक शाकाहारी हाई टी का भी आयोजन किया जाएगा। इसके बाद राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद की ओर से मेहमानों के लिए एक छोटे सा निजी भोज रखा गया है। इसमें दाल रायसीना परोसा जाएगा। ये एक इन-हाउस इनोवेशन है जिसे पकाने के लिए 48 घंटे लगते हैं।

यह चौथी बार है जब एक प्रधानमंत्री को फोरकोर्ट में शपथ दिलाई जाएगी। आमतौर पर शपथ ग्रहण दरबार हॉल में होता है। केवल दो अन्य प्रधानमंत्री जिन्होंने फोरकोर्ट में शपथ ली थी वो अटल बिहार वाजपेयी और चंद्रशेखर हैं। 2014 में, नरेन्द्र मोदी ने अपने शपथ ग्रहण समारोह के लिए पाकिस्तान के तत्कालीन प्रधानमंत्री नवाज शरीफ सहित सभी सार्क नेताओं को आमंत्रित किया था। 2014 में राष्ट्रपति भवन के फोरकोर्ट में लगभग 2,000 लोगों के साथ शपथ ग्रहण समारोह आयोजित किया गया था।

कमेंट करें
MbHNy