दैनिक भास्कर हिंदी: गांगुली ने राजदीप सरदेसाई को याद दिलाई प्रणब मुखर्जी की डांट, जानें क्यों ?

November 18th, 2017

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। वरिष्ठ पत्रकार और लेखक राजदीप सरदेसाई ने अपनी अपकमिंग बुक 'Democracy’s XI' को लॉन्च कर दिया है। इस बुक की लॉन्चिग सेरेमनी कोलकत्ता में हुई थी। बता दें कि बुक के लॉन्च पर पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली समेत कई हस्तियों को बुलाया गया था। इस समारोह में वरिष्‍ठ खेल पत्रकार बोरिया मजूमदार भी मौजूद थे। 
राजदीप ने जब सवाल-जवाब का सिलसिला शुरू किया तो उन्होंने सौरव गांगुली से मजाक करते हुए कहा कि 'मैं हमेशा सोचता था कि सौरव राजनीति में आसानी से आ सकता है। वह लोगों को इंतजार कराने के लिए मशहूर है।' इस पर सौरव ने तुरंत पलटवार करते हुए कहा कि 'आज मैं जब सुबह 8.30 बजे ईडन गार्डन गया तो वहां सिर्फ दो टीम थी। लगता है राजदीप आप उस समय सो रहे थे।’ इस पर राजदीप ने कहा कि ‘ममता भी राजनीति में तो ऐसा ही करती हैं।'

उसके बाद बोरिया मजूमदार ने राजदीप की किताब एक किस्‍सा सुनाया, 'राजदीप सौरव से पूछते हैं कि क्‍या वे बंगाल का मुख्‍यमंत्री बनना चाहते हैं। सौरव ने नहीं में जवाब दिया मगर राजदीप लिखते हैं कि सौरव की आंखों में चमक थी।' इस पर सौरव ने कहा कि 'मुझे लगा कि ये क्रिकेट पर किताब होगी।' अब सौरव कहां चुप रहने वालों में से हैं उसके बाद गांगुली ने राजदीप को पूर्व राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी के साथ हुआ वाकया याद दिलाया, जब प्रणब दा ने एक इंटरव्‍यू के दौरान राजदीप को बहुत ही बुरी तरह डांट दिया था।

सौरव ने कहा, 'राजदीप, आपको पूर्व राष्‍ट्रपति ने डांटा था। मैं आपसे छोटा हूं, इसलिए मैं आपको डांट नहीं सकता, लेकिन आप अभी तक इस तरह के खतरे मोल लेते हैं। मैंने इंटरव्‍यू देखा था। यहां तक कि बहुत शालीन, बुजुर्ग प्रणब दा ने आपको डांटा था।' इस पर राजदीप ने जवाब दिया, ‘मेरा बंगालियों के साथ बुरा रिकॉर्ड है। मैं घर पर पत्‍नी से डांटा खाता हूं। मैंने प्रणब दा से डांट खाई। और अब सौरव।'