महाराष्ट्र : तीन जिलों में छापेमारी के दौरान 210 करोड़ रुपये से अधिक की कर चोरी का चला पता

December 28th, 2021

हाईलाइट

  • आयकर विभाग की छापेमारी जारी

डिजिटल डेस्क, मुंबई। आयकर विभाग ने महाराष्ट्र में दो अज्ञात व्यापारिक समूहों के 25 परिसरों पर छापेमारी की और भारी कर चोरी का पता लगाया है। इसके अलावा कुल 210 करोड़ रुपये से अधिक की जब्ती हुई है। एक अधिकारी ने मंगलवार को यहां यह जानकारी दी। विभाग ने कहा कि 22 दिसंबर को नासिक, धुले और नंदुरबार में फैली कम से कम 25 संपत्तियों में रियल्टी डेवलपमेंट और सिविल कंस्ट्रक्शन में लगी दो ग्रुपों पर छापेमारी की गई।

छापेमारी के दौरान, आईटी विभाग ने दोनों पक्षों से कई आपत्तिजनक दस्तावेजों, कागजों और अन्य डिजिटल सबूतों का पता लगाया और जब्त किया गया। आईटी अधिकारी ने पाया कि ये ठेके परिवार के सदस्यों और उनके कर्मचारियों को देते थे, जिन्होंने इस संबंधित कोई काम नहीं आता था। नगदी में हुए अघोषित खर्च के भी साक्ष्य जुटाए गए हैं। प्रारंभिक जांच से संकेत मिलता है कि इस समूह ने 150 करोड़ रुपये तक की आय की चोरी की है।

केंद्रीय जांच एजेंसी ने पाया कि कंपनी के भूमि लेनदेन का एक बड़ा हिस्सा नकद में किया गया था और इसका कोई हिसाब नहीं था। इस तरह के भूमि सौदों पर गैर-धन की प्राप्ति और 52 करोड़ रुपये से अधिक के नकद ऋण के अलावा, 5 करोड़ रुपये से अधिक की बेहिसाब नकदी और लगभग 5 करोड़ रुपये के आभूषण जब्त किए गए। इन अनियमित सौदों का पता लगाने के साथ, आईटी विभाग ने कहा कि दोनों समूहों में आगे की जांच चल रही है, जिनकी पहचान उजागर नहीं की गई है।

(आईएएनएस)