आतंकियों की कायराना हरकत: आर्टिकल 370 हटने की सालगिरह के पहले ही जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमला, एक मजदूर की मौत 

August 5th, 2022

हाईलाइट

  • बिहार के मजदूर की मौत

डिजिटल डेस्क, श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों ने एक बार फिर से कायराना हरकत किया है। बताया जा रहा है कि इस हमले में एक गैर-कश्मीरी मजदूर की मौत हो गई है। आतंकियों ने यह हमला जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटने की सालगिरह से पहले किया है।

खबरों के मुताबिक, आतंकियों ने पुलवामा के गदूरा इलाके में मजदूरों को ग्रेनेड फेंका और इसकी चपेट में एक मजदूर के आ जाने से उसकी मौत हो गई। जबकि दो लोगों के घायल होने की खबर है। घटना के बाद सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके को घेर लिया है। बताया जा रहा है कि जो मजदूर आतंकी हमले का शिकार हुआ है, वह बिहार का रहने वाला है, जो मुस्लिम समुदाय से आता है। इस हमले में घायल लोगों के नजदीकी अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है। 

आज है चौथी सालगिरह

गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद-370 हटने के बाद चौथी सालगिरह 5 अगस्त को है। लेकिन एक दिन पहले ही आतंकियों ने अपना कायराना हरकत कर दहशत फैलाने की कोशिश की है। गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने साल 2019 में 5 अगस्त के दिन ही जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देना वाला अनुच्छेद-370 हटा दिया था। जिसको मोदी सरकार बड़ी कामयाबी के दौर पर देख रही है। हालांकि, आतंकियों का जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबल लगातार सफाया कर रहे हैं।

मजदूर इस जिले का रहने वाला था

बताया जा रहा है कि आतंकी हमले में मारा गया मजदूर बिहार जिले का रहने वाला था, जिसकी पहचान मोहम्मद मुमताज ते तौर पर हुई है। जम्मू-कश्मीर पुलिस का कहना है कि आतंकी हमले में घायल दो लोग भी बिहार के निवासी हैं। इनके नाम मोहम्मद आरिफ और मोहम्मद मजबूल हैं और ये दोनों बिहार राज्य के रामपुर से हैं। पुलिस के मुताबिक, घायल युवकों की हालत स्थिर बनी हुई है।