दैनिक भास्कर हिंदी: राजनाथ के दौरे के पहले कुपवाड़ा में सेना की पेट्रोलिंग पार्टी पर आतंकी हमला

June 8th, 2018

हाईलाइट

  • जम्मू-कश्मीर के सीमावर्ती इलाकों में लगातार बढ़ रहे युद्धविराम उल्लंघन और तनावपूर्ण हालातों का जायजा लेने के लिए केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह आज शुक्रवार 8 जून कुपवाड़ा और जम्मू के सीमावर्ती इलाकों का दौरा करने वाले हैं।
  • वह अपनी यात्रा के दौरान सीमावर्ती इलाके में रहने वाले लोगों से बातचीत भी करेंगे।
  • केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह के कुपवाड़ा दौरे से पहले आतंकियों ने भारतीय सेना को निशाना बनाया है।

डिजिटल डेस्क, श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के सीमावर्ती इलाकों में लगातार बढ़ रहे युद्धविराम उल्लंघन और तनावपूर्ण हालातों का जायजा लेने के लिए केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह आज शुक्रवार 8 जून कुपवाड़ा और जम्मू के सीमावर्ती इलाकों का दौरा करने वाले हैं। वह अपनी यात्रा के दौरान बॉर्डर इलाके में रहने वाले लोगों से बातचीत भी करेंगे। राजनाथ सिंह के कुपवाड़ा दौरे से पहले आतंकियों ने भारतीय सेना को निशाना बनाया है। 

 


 

सेना ने शुरू किया तलाशी अभियान


शुक्रवार सुबह कुपवाड़ा जिले के हरिल इलाके में गश्त कर रही सेना की एक पेट्रोलिंग पार्टी पर आतंकियों ने अचानक हमला कर दिया। इस घटना का अब तक विस्तृत ब्यौरा नहीं मिल सका है। हमले में अब तक किसी भारतीय जवान के घायल होने या आतंकियों के पकड़े जाने की खबर नहीं मिली है। घटना के बाद सुरक्षा बलों ने सीमा पर बड़े पैमाने पर तलाशी अभियान शुरू किया है। लेकिन केंद्रीय गृहमंत्री के दौरे से पहले सेना पर हमला करके उन्होंने अपने मंसूबों का परिचय दे दिया है। कुपवाड़ा दौरे पर राजनाथ सिंह स्थानीय लोगों से मुलाकात कर उनकी समस्या को जानने और इससे उन्हें कैसे छुटकारा मिल सकता है, इस पर विचार करेंगे। गौरतलब है कि यह वही इलाका है, जहां पिछले कुछ समय में सबसे ज्यादा बार पाकिस्तान की ओर से युद्धविराम का उल्लघंन किया गया है। 

 

लगातार हो रहीं घुसपैठ की कोशिश


एक तरफ राजनाथ सिंह घाटी दौरे पर हैं, तो दूसरी तरफ पाकिस्तान की ओर से अब भी घुसपैठ की कोशिश जारी है। जम्मू एवं कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में गुरुवार को पाकिस्तान की ओर से भारत में घुसपैठ की कोशिश कर रहे आतंकवादियोंके साथ मुठभेड़ में दो जवान घायल हो गए थे। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता कर्नल राजेश कालिया ने बताया कि केरन सेक्टर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पास हुई इस घटना में दो जवान घायल हुए हैं। इसके बाद भारतीय जवानों उसका मुंहतोड़ जवाब दिया। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय राइफल्स के जवानों ने 2 से 4 आतंकवादियों की घुसैपठ को नाकाम कर दिया, जिसके बाद पाक सैनिकों ने गोलीबारी शुरू कर दी। 


पत्थरबाज युवाओं पर से वापस लिए जाएंगे केस


स्पोर्ट्स काउंसिल ऑफ जम्मू कश्मीर द्वारा आयोजित कार्यक्रम में गुरूवार को बोलते हुए राजनाथ सिंह ने कहा बच्चों के उमंग और उत्साह को देखने के बाद मैं कह सकता हूं कि जम्मू-कश्मीर के नौजवान सिर्फ घाटी नहीं बल्कि हिंदुस्तान की तकदीक बदल सकते हैं। उन्होंने कहा बच्चे, बच्चे होते हैं। केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि वे गुमराह हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि पत्थरबाजी से गुमराह होने वाले बच्चों के ऊपर लगे सभी केस वापस लिए जाएंगे। उन्हें मुख्यधारा में लाने के लिए राज्य और केंद्र सरकार ने अनेक रोजगारमूलक योजनाएं शुरू की हैं। इन योजनाओं से जुड़ कर जम्मू-कश्मीर के युवा देश को अपना सकारात्मक योगदान दे सकते हैं।