दैनिक भास्कर हिंदी: UP में शर्मसार करने वाला मामला, PM के लिए रिक्शे पर बाॅडी ले गए GRP के कॉन्स्टेबल

July 27th, 2017

डिजिटल डेस्क, बांदा. यूपी में एक शर्मासार करने वाला मामला सामने आया। यहां रिक्शे से शव को पोस्टमार्टम के लिए ले जाया गया। मामला यूपी के बांदा जिले का हैं, जहां एंबुलेंस ना मिलने पर GRP के कॉन्स्टेबल ने रिक्शे पर शव को रखा और फिर उसे अस्तपाल पहुंचाया।

दरअसल, बांदा स्टेशन पर शनिवार शाम एक शख्स की बॉडी मिली। खबर मिलते ही जीआरपी के कॉन्स्टेबल मौके पर पहुंचे। उन्होंने मृतक की पहचान रामश्रे के तौर पर की। उसकी उम्र 35 साल थी। वो यहां से 15 किलोमीटर दूर स्थित महोत्रा गांव का रहने वाला था। पुलिस ने 108 एंबुलेंस को कॉल किया, लेकिन वहां से कोई रिस्पॉन्स नहीं मिला। इसके बाद मुक्तिधाम एनजीओ से एंबुलेंस मांगी गई, लेकिन वहां से भी मदद नहीं मिली। बाद में जीआरपी के कॉन्स्टेबल बॉडी को रिक्शे पर रखकर पोस्टमार्टम के लिए ले गए। जीआरपी के दो कॉन्स्टेबल इसके पीछे दूसरे रिक्शे से चल रहे थे।
मिर्जापुर में भाई के कंधे पर बहन ने तोड़ा था दम

यूपी में पहला मामला नहीं इससे पहले मिर्जापुर में 28 जून को 108 एंबुलेंस नहीं मिलने पर एक भाई अपनी शादीशुदा बहन को कंधे पर लादकर अस्पताल के लिए निकल पड़ा था, लेकिन रास्ते में बहन की मौत हो गई।

उसके परिवार वालों का आरोप था कि उन्होंने एंबुलेंस की मांग की थी, लेकिन वो एक घंटे तक नहीं पहुंची। बहन को तड़पता देख भाई उसे कंधे पर उठाकर डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल के लिए निकल पड़ा। वो करीब200 मीटर ही गया था कि बहन ने उसके कंधे पर ही दम तोड़ दिया।
बहन की मौत के बाद रोता-बिलखता भाई अपनी बहन की लाश को कंधे पर ही लादकर घर पहुंचा था।

वहीं यूपी के कौशांबी में भी 12 जून को ऐसा ही मामला सामने आया था। एंबुलेंस ना मिलने पर एक शख्स को अपनी सात महीने की भांजी की बॉडी कंधे पर लादकर हॉस्पिटल से 10 किलोमीटर साइकिल से घर ले जाना पड़ा था।