• Dainik Bhaskar Hindi
  • National
  • The child attacked the mother for not letting her play PUBG, or is someone else responsible for the woman's murder! Police will find its secret

  उत्तरप्रदेश: PUBG न खेलने देने की वजह से बच्चे ने किया मां पर वार,या कोई और शख्स है महिला की हत्या का जिम्मेदार! 

June 9th, 2022

हाईलाइट

  • पुलिस तीसरे शख्स का नाम इस मामले पर आने से इसके बारे में भी खोजबीन कर रही है। 

डिजिटल डेस्क, लखनऊ।  उत्तरप्रदेश के लखनऊ में अपनी मां की हत्या उसके ही नाबालिग बच्चे ने कर दी थी। महिला की हत्या के मामले की शुरूआती जांच में पबजी खेल को मुख्य वजह माना जा रहा था। नाबालिग बच्चे को पबजी खेलना पसंद था कयास लगाए जा रहे थे कि बच्चे को मां के द्वारा इस खेल को खेलने से रोका गया होगा जिससे नाराज होकर बच्चे ने मां की हत्या कर दी। लेकिन इस मामले में अब एक दूसरे शख्स की एंट्री हो गयी है। और हैरान करने वाली बात यह है कि इसकी जानकारी खुद नाबालिग बच्चे ने पुलिस को दी है। इस मामले में तीसरे शख्स का नाम सामने आने से पुलिस की मुसीवत बढ़ गयी है। 

 पुलिस ने इस मामले में पूछताछ की इस दौरान बच्चे ने बताया कि उसके घर में एक शख्स का आना-जाना लगा रहता था जो उसको रास नहीं आ रहा था। बच्चे ने पुलिस को यह भी बताया कि इसी वजह से उसकी मां के साथ कई बार कहा सुनी भी हुई। उसने इस शख्स के बारे में अपने पिता से भी शिकायत की थी। इस कारण से मां ने उसे पीटा भी था।   

बच्चे के इस बयान के बाद पुलिस हर पहलु को ध्यान में रखते हुए जांच कर रही है। पुलिस दोनों ही एंगल से इस केस को देख रही है। तीसरे शख्स की इस केस में एंट्री होने से इस केस के समीकरण अचानक बदल गए है। पुलिस इस केस में हुई शख्स की एंट्री की भूमिका को भी समझ रही है। अभी तक स्पष्ठ नहीं हो पाया है कि तीसरे शख्स का पहलू जिस तरह से बच्चे ने बताया है वह सही है या फिर गलत। पुलिस अब यह भी जांच करेगी की बच्चा सही बोल रहा है या गलत।   

शुरूआत में पर यह बात सामने आ रही थी कि बच्चे को मोबाईल पर गेम खेलने का शौक था। जिस वजह से उसका परिवार नाराज था और उसकी मां ने उसका फोन छीन लिया था। इसी वजह से ही नाराज  बच्चे ने अपने पिता की बंदूक से अपनी ही मां की गोली मारकर जान ले ली। 

हालांकि खबरों की मानें तो बच्चे की बहन ने पुलिस के सामने कबूल लिया है कि उसकी मां को भाई ने मारा है। इसके बाद पुलिस की पूछताछ के दौरान बच्चे ने कहा  कि उसकी मां उसकी आजादी छीनती थी,उस पर बिना किसी वजह की पांबदी लगा कर रखी थी। बच्चे ने यह भी बताया की एक दिन घर 10 हजार रूपए गायब हो गए थे इस वजह से भी मां ने उसे बहुत डांटा था हालांकि बाद में पैसे मिल गए थे।इसके बाद से ही वह बहुत परेशान रहता था। 

हालांकि इस केस में बच्चे के रिश्तेदारों की यही मानना है कि अधिक फोन के इस्तमाल की वजह से ही घर में तनाव रहता था। इस मामले में परिजनों का मानना है कि कई बार मां और उसके बेटे की लड़ाई होती थी और लड़का भी कई बार घर छोड़कर भाग जाता था। पुलिस परिजनों और नाबालिग बच्चे की बहन के बयानो को ज्यादा महत्व दे रही है साथ ही तीसरे शख्स का नाम इस मामले पर आने से इसके बारे में भी खोजबीन कर रही है।