दैनिक भास्कर हिंदी: पाक की फायरिंग में दो जवान शहीद, महबूबा बोलीं-बातचीत होती रहनी चाहिए

June 3rd, 2018

डिजिटल डेस्क, श्रीनगर. पाकिस्तान ने शनिवार रात अंधेरे का फायदा उठाकर जम्मू-कश्मीर के अखनूर सेक्टर में गोलीबारी की। इस फायरिंग बीएसएफ के दो जवान शहीद हो गए। पाक सेना की कार्रवाई का भारतीय सैनिकों ने मुंहतोड़ जवाब दिया। इस घटना पर दुख जताते हुए प्रदेश की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कहा कि डीजीएमओ स्तर की बातचीत के बाद भी ऐसी घटना हो रही है यह सही नहीं है। सीएम ने कहा इसके बावजूद डीजीएमओ स्तर पर बातचीत बंद नहीं होनी चाहिए।

महबूबा मुफ्ती ने कहा, 'यह बहुत दुखद है कि ऐसी घटना डीजीएमओ स्तर पर बातचीत होने के बाद भी हो रही है। दोनों ही देशों के सीमा पर रहनेवाले लोग इस घटना में मारे जा रहे हैं। डीजीएमओ स्तर पर बातचीत फिर से होनी चाहिए। यह खून-खराबा रुकना ही चाहिए।'

चश्मदीदों के मुताबिक रविवार देर रात ढाई बजे के करीब गोलीबारी की आवाज आई। पाकिस्‍तान ने देर रात अखनूर सेक्‍टर में गोलाबारी शुरू की। जिसकी चपेट में आने से बीएसएफ के दो जवान घायल हो गए। उन्‍हें अस्‍पताल ले जाया गया जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई।

बता दें कि कुछ दिन पहले ही पाकिस्तान के साथ संबंधों को लेकर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा था कि सरहद पर गोलीबारी और बातचीत एक साथ नहीं हो सकती है। हाल ही में जम्मू-कश्मीर के अलग-अलग इलाकों में पाकिस्तान की ओर से की जा रही फायरिंग में 4 लोगों की मौत हो गई थी और कई लोग घायल हो गए थे। पाकिस्तानी की लगातार गोलीबारी से सीमावर्ती गावों से 40,000 से अधिक लोगों को अपने घर छोड़कर सुरक्षित स्थानों की ओर पलायन करने पर मजबूर होना पड़ा है।