दैनिक भास्कर हिंदी: फारूक अब्दुल्ला बोले, जब राम मंदिर बनेगा...एक ईंट मैं भी लगाऊंगा

January 4th, 2019

हाईलाइट

  • सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद राजनीतिक बयान आने शुरू
  • नेशनल कांफ्रेंस के नेता ने दिया बड़ा बयान
  • सुप्रीम कोर्ट ने गठित की नई बेंच, 10 जनवरी को होगी सुनवाई

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट से राम मंदिर मुद्दे पर नई तारीख मिलने के बाद अब राजनीतिक पार्टियों से प्रतिक्रियाएं आने लगी हैं। इस मामले पर नेशनल कांफ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि जिस दिन इस मसले का हल निकाल लिया जाएगा, मैं खुद एक ईंट लगाने वहां जाऊंगा। 


अब्दुल्ला ने कहा कि राम मंदिर मुद्दे को बातचीत के जरिए सुलझा लिया जाना था। उन्होंने कहा कि किसी को भी भगवान राम से बैर नहीं होना चाहिए, वो सभी के हैं। फारूक अब्दुल्ला के अलावा और भी नेताओं ने सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के बाद अपनी प्रतिक्रिया दी है। बता दें कि इस मसले पर शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई। कोर्ट ने राम मंदिर मुद्दे पर नई बेंच गठित कर 10 जनवरी को अगली सुनवाई करने को कहा है।

 
अंसारी बोले...अध्यादेश न लाएं
सुप्रीम कोर्ट से राम मंदिर मामले में नई तारीख मिलने के बाद बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी का बयान भी सामने आया है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार को राम मंदिर पर अध्यादेश नहीं लाना चाहिए। अंसारी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कथन का भी समर्थन किया। उन्होंने कहा कि पीएम ने सही कहा है कि हमें सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार करना चाहिए।
 

इधर, अध्यादेश पर अड़ी शिवसेना
राम मंदिर मुद्दे को लेकर भाजपा पर लगातार निशाना साध रही शिवसेना ने एक बार फिर केंद्र सरकार पर हमला बोला है। शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट में इस मामले पर सुनवाई जरूरी है, लेकिन सुनवाई से मंदिर का निर्माण नहीं होने वाला है। मंदिर का निर्माण अध्यादेश लाकर ही किया जाना चाहिए। राउत ने कहा कि पिछले 25 साल से सुप्रीम कोर्ट में राम मंदिर का मामला अटका पड़ा है। 

कांग्रेस को मंजूर होगा कोर्ट का आदेश
कांग्रेस पार्टी ने भी राम मंदिर मुद्दे पर अपनी प्रतिक्रिया जाहिर की है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट जो भी फैसला करेगा, वो हमें मंजूर होगा। वहीं इस मसले पर विश्व हिंदू परिषद ने चिंता जाहिर की है। वीएचपी प्रमुख आलोक कुमार का कहना है कि राम मंदिर निर्माण को टालने की कोशिश की जा रही है।

खबरें और भी हैं...