comScore

Coronavirus: अब एटीएम से फैलने लगा कोरोना, गुजरात में आर्मी के तीन जवान हुए संक्रमित


हाईलाइट

  • गुजरात के वडोदरा में सेना के तीन जवान कोरोनावायरस से संक्रमित
  • संपर्क में आए 28 लोगों को भी क्वारंटीन कर दिया गया
  • तीनों जवान एटीएम यूज करने की वजह से संक्रमित हुए हैं

डिजिटल डेस्क, वडोदरा। गुजरात के वडोदरा में सेना के तीन जवान कोरोनावायरस से संक्रमित हो गए हैं। टेस्ट में पॉजिटिव पाए जाने के बाद  इनके संपर्क में आए 28 लोगों को भी क्वारंटीन कर दिया गया है। ऐसी आशंका है कि तीनों जवान एटीएम यूज करने की वजह से संक्रमित हुए हैं। एक ही दिन में तीनों जवानों ने एटीएम से पैसे निकाले थे। इससे पहले महाराष्ट्र में नेवी के जवानों में संक्रमण की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। नौसेना में 25 से अधिक कर्मियों के कोरोना टेस्ट किए गए थे, जिनमें से 21 पॉजिटिव बताए जा रहे हैं।

देश में 21 हजार के पार पहुंची संक्रमितों की संख्या
बता दें कि भारत में 24 मार्च से लॉकडाउन लगा हुआ है और सरकार तमाम तरह के प्रयास कर रही है। बावजूद इसके देश में कोरोना वायरस के मरीजों और संक्रमण से मृतकों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की वेबसाइट पर मौजूद जानकारी के अनुसार शुक्रवार सुबह 8 बजे तक भारत में संक्रमण के कुल 21,700 मामले हैं, जबकि मरने वालों की संख्या 718 पहुंच गई है। इसके अलावा 4,749 लोग स्वस्थ हुए हैं और 17,610 लोग कोरोना के कारण अस्पतालों में भर्ती हैं। कोरोना के मामलों में सबसे आगे महाराष्ट्र है जहां संक्रमितों की संख्या 6000 के पार पहुंच गई है।

कोरोना संक्रमितों के मामले में गुजरात दूसरे नंबर पर
गुजरात में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या 2600 के पार पहुंच चुकी है।  गुजरात में कोरोना संक्रमण के साथ-साथ मौत के मामलों में भी तेजी से इजाफा हुआ है। इसका अंदाजा ऐसे लगाया जा सकता है कि महज 5 दिन में गुजरात में कोरोना प्रभावित राज्यों की लिस्ट में छठे नंबर से सीधे 2 नंबर पर आ गया है। वहीं राज्य में अब तक 100 से अधिक की मौत हो चुकी है और मरीजों के ठीक होने की दर भी सबसे कम है। इस लिस्‍ट में पहले नंबर पर महाराष्‍ट्र है जहां 6 हजार से अधिक केस आ चुके हैं।

गुजरात में मरीजों के ठीक होने की दर 6.3 फीसदी
मरीजों के ठीक होने के मामले में गुजरात की दर मात्र 6.3 फीसदी है। अहमदाबाद शहर का रिकवरी रेट 3.9 फीसदी है। सूरत और वडोदरा की रिकवरी रेट 3 और 3.8 ही है। जबकि भारत में कोरोनावायरस का रिकवरी रेट 19 फीसदी है।  मुंबई में रिकवरी रेट 13 पर्सेंट है जहां संक्रमण के सबसे अधिक मामले हैं और यह महानगर वायरस से मरने वाले मरीजों की संख्या के मामले में भी सबसे आगे है। इस मामले में सबसे अच्छा प्रदर्शन दिल्ली का है जहां रिकवरी रेट 28 पर्सेंट है। पुणे, इंदौर, अहमदाबाद और मुंबई में मृत्युदर राष्ट्रीय औसत से अधिक है।

कमेंट करें
p91vo