दैनिक भास्कर हिंदी: बंगाल में हिंसा का दौर जारी, लगातार दूसरे दिन TMC कार्यकर्ता की हत्या

June 6th, 2019

हाईलाइट

  • कूचबिहार के पेटला बाजार में टीएमसी कार्यकर्ता अजीजर रहमान की हत्या
  • टीएमसी नेता ने बीजेपी पर लगाए आरोप
  • बीजेपी ने कहा- व्यक्तिगत वजहों से हुई घटना, इसे राजनीतिक रंग दिया जा रहा

डिजिटल डेस्क, कोलकाता। पश्चिम बंगाल में राजनीतिक हिंसा रुकने का नाम ही नहीं ले रही है। यहां फिर से टीएमसी कार्यकर्ता की हत्या का मामला सामने आया है। कूचबिहार के दिनहाटा में बुधवार शाम टीएमसी कार्यकर्ता अजीजर रहमान की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। टीएमसी नेता ने हत्या का आरोप बीजेपी पर लगाया है। फिलहाल पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

स्‍थानीय टीएमसी नेता ने बीजेपी पर आरोप लगाया है। टीएमसी नेता का कहना है कि, अजहर अली नाम के बीजेपी के एक सदस्य ने अपने समर्थकों के साथ मिलकर अजीजर रहमान को पीट-पीटकर मार डाला। बताया जा रहा है कि, टीएमसी कार्यकर्ता अजीजर घर लौट रहा था। तभी घटना को अंजाम दिया गया। इस घटना के बाद से इलाके में तनाव की स्थिति बनी हुई है।

वहीं इस हत्या को लेकर बीजेपी ने टीएमसी के आरोपों को खारिज कर दिया है। कूचबिहार से बीजेपी सांसद निसिथ प्रमाणिक ने कहा, यह घटना व्यक्तिगत वजहों से हुई है। टीएमसी इसे राजनीतिक रंग देने की कोशिश कर रही है। उन्होंने कहा, मृतक के परिजनों का खुद ही कहना है कि आपसी विवाद की वजह से यह घटना हुई है, इसमें बीजेपी के किसी कार्यकर्ता का हाथ नहीं है।

बता दें कि बंगाल में पिछले दो दिन में टीएमसी कार्यकर्ता की यह दूसरी हत्या है। मंगलवार को उत्तरी कोलकाता के दमदम में बाइक सवार अज्ञात हमलावरों ने टीएमसी कार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या कर दी थी। इस घटना के लिए भी टीएमसी ने बीजेपी को जिम्मेदार ठहराया था। टीएमसी नेता की पहचान दमदम नगर निगम के वार्ड 6 के अध्यक्ष निर्मल कुंडू के रुप में हुई थी।  

गौरतलब है कि, लोकसभा चुनाव के दौरान से ही बीजेपी और टीएमसी के बीच तनातनी जारी है। बंगाल में जमकर हिंसा भी हुई थी। दमदम में बीजेपी और टीएमसी के बीच लड़ाई हुई थी। जिसके बाद बीजेपी ने दावा किया था कि उसके 50 से अधिक कार्यकर्ता चुनावी हिंसा में मारे गए हैं। वहीं टीएमसी ने आरोप लगाया था कि बीजेपी के कार्यकर्ता टीएएमसी के कार्यकर्ताओं को निशाना बना रहे हैं।