दैनिक भास्कर हिंदी: J&K: आतंकियों ने की ट्रक ड्राइवर की हत्या, बीते 14 दिनों में चौथी घटना

October 29th, 2019

हाईलाइट

  • जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में आतंकवादियों ने एक ट्रक चालक की हत्या कर दी
  • उधमपुर जिले के कटरा के निवासी नारायण दत्त चौथे ट्रक चालक हैं जिन्हें आतंकियों ने मारा है
  • सुरक्षाबलों ने इलाके की घेराबंदी कर आतंकियों के खिलाफ सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया है

डिजिटल डेस्क, श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में सोमवार को आतंकवादियों ने एक ट्रक चालक की हत्या कर दी। उधमपुर जिले के कटरा के निवासी नारायण दत्त चौथे ट्रक चालक हैं जिन्हें 5 अगस्त को कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद आतंकियों ने मारा है। ये हत्या, यूरोपीय संघ के सांसदों के एक प्रतिनिधिमंडल के कश्मीर दौरे से एक दिन पहले किया गया है। सुरक्षाबलों ने इलाके की घेराबंदी कर आतंकियों के खिलाफ सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया है।

एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि दत्त को आतंकवादियों ने शाम को दक्षिण कश्मीर जिले के बिजबेहारा के कानीलवन इलाके में फायर किया। उनकी मौके पर ही मौत हो गई। सीनियर पुलिस अधिकारी जो पास में मोजूद थे वह दौड़कर घटनास्थल पर पहुंचे और आसपास के क्षेत्र में मौजूद दो अन्य ट्रक चालकों को बचाने में सफल रहे। पुलिस ने कहा कि इस इलाके में घेराबंदी की गई है और हमलावरों को पकड़ने के लिए एक ऑपरेशन शुरू किया गया है।

यह हमला 27 यूरोपीय संघ के सांसदों के प्रतिनिधिमंडल के राज्य के दौरे से एक दिन पहले हुआ है। प्रतिनिधिमंडल स्थानीय लोगों से बात करना चाहता है और केंद्र के फैसले के बाद उनके अनुभव के बारे में जानना चाहता है। यह पहला मौका है जब कश्मीर को स्पेशल स्टेटस देने वाले आर्टिकल 370 को समाप्त करने के बाद कोई अंतर्राष्ट्रीय प्रतिनिधिमंडल राज्य का दौरा करेगा। इस दल ने सोमवार को पीएम मोदी और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल से भी मुलाकात की।

24 अक्टूबर को भी जम्मू-कश्मीर के शोपियां में आतंकवादियों ने दो गैर-कश्मीरी ट्रक ड्राइवरों की हत्या कर दी थी, जबकि एक ड्राइवर घोयल हो गया था। ये तीनों ड्राइवर सेब की खेप लेने के लिए गए थे। पिछले 10 दिनों में यह तीसरी घटना थी। इससे पहले राजस्थान के एक ट्रक चालक की 14 अक्टूबर को घाटी में हत्या कर दी गई थी। जबकि छत्तीसगढ़ के एक प्रवासी मजदूर और पंजाब के एक फ्रूट लोडर को दो दिन बाद 16 अक्टूबर पुलवामा और शोपियां में गोली मार दी गई थी।

जम्मू-कश्मीर पुलिस के महानिदेशक, दिलबाग सिंह ने बताया था कि शोपियां में व्यापारियों को सलाह दी गई है कि वे जिले के अंदरूनी हिस्सों से सेब के परिवहन के लिए छोटे वाहनों का इस्तेमाल करें। उनसे कहा गया था कि वह उपज को मुख्य सड़कों पर 'सुरक्षित और पहचाने हुए' छह पिक-अप पॉइंट्स पर लाएं। डीजीपी ने कहा था, 'हमने इन छह पॉइंट्स पर सुरक्षा उपस्थिति बढ़ाई है और ट्रांसपोर्टरों को ट्रकों को अंदरूनी हिस्सों में नहीं ले जाने का आग्रह किया है।