comScore

महाराष्ट्र: आरे में नहीं कटेगा अब एक भी पेड़, मेट्रो कार शेड प्रोजेक्ट पर सीएम ने लगाई रोक


हाईलाइट

  • महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने मेट्रो कार शेड परियोजना के काम को रोकने की घोषणा की
  • मेट्रो लाइन का काम नहीं रुकेगा लेकिन अगले फैसले तक आरे का एक भी पत्ता नहीं काटा जाएगा
  • शिवसेना ने सत्ता में आने से पहले अपने मुखपत्र के जरिए इस प्रोजेक्ट का विरोध किया था

डिजिटल डेस्क, मुंबई। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री बनने के बाद उद्धव ठाकरे ने शुक्रवार को आरे मेट्रो कार शेड परियोजना के काम को रोकने की घोषणा की। हालांकि मेट्रो लाइन का काम नहीं रुकेगा लेकिन अगले फैसले तक आरे का एक भी पत्ता नहीं काटा जाएगा। शिवसेना ने सत्ता में आने से पहले अपने मुखपत्र 'सामना' के जरिए इस प्रोजेक्ट का विरोध किया था।

सीएम ठाकरे ने संवाददाताओं से कहा, 'मैंने आरे के काम पर रोक लगा दी है। मैं पूरी बात की समीक्षा करूंगा... मैं एक ऐसी संस्कृति की अनुमति नहीं दूंगा, जहां रात में पेड़ काटे जाएं।' उन्होंने कहा, 'अगले आदेश तक एक भी पेड़ का पत्ता नहीं काटा जाएगा।'

संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान से सटे आरे कॉलोनी में अक्टूबर में 2,000 से ज्यादा पेड़ एक कारशेड के लिए गिराए गए थे। इसके बाद महाराष्ट्र में बीजेपी की अगुवाई वाली सरकार लोगों के निशाने पर आ गई थी। सुप्रीम कोर्ट की एक बेंच ने पिछले महीने आरे कॉलोनी क्षेत्र में वृक्षारोपण, प्रत्यारोपण और पेड़ों की कटाई पर तस्वीरों के साथ स्टेटस रिपोर्ट मांगी थी।

बॉम्बे हाई कोर्ट ने 4 अक्टूबर को आरे कॉलोनी को जंगल घोषित करने से इनकार कर दिया था। कोर्ट ने मेट्रो को स्थापित करने के लिए ग्रीन ज़ोन में 2,600 से अधिक पेड़ों की कटाई की अनुमति देने के मुंबई नगर निगम के फैसले को रद्द करने से इनकार कर दिया था। अदालत की मंजूरी मिलने के कुछ घंटे बाद, रात में पेड़ों को काट दिया गया, जिससे लोगों में आक्रोश फैल गया।

राज्य सचिवालय के प्रेस कक्ष में मीडिया से बातचीत के दौरान, ठाकरे ने यह भी कहा कि वह अप्रत्याशित रूप से मुख्यमंत्री बने, लेकिन वे जिम्मेदारी से भागना नहीं चाहते थे।

कमेंट करें
umVH2