दैनिक भास्कर हिंदी: धर्म संसद में स्वामी गोविंद देव बोले- हिंदुओं को 4 बच्चे पैदा करना चाहिए

November 26th, 2017

डिजिटल डेस्क, उडुपी। कर्नाटक के उडुपी में चल रही धर्म संसद में पत्रकारों से बात करते हुए स्वामी गोविंद देव गिरिजी महाराज ने हिंदुओं को कितने बच्चे पैदा करने हैं, इसकी सलाह दी है। हरिद्वार स्थित भारत माता मंदिर के स्वामी गोविंद देव गिरिजी महाराज ने कहा कि समान नागरिक संहिता (यूनिफॉर्म सिविल कोड) के लागू होने तक हिंदुओं को कम से कम 4 बच्चे पैदा करना चाहिए।

पत्रकारों से बातचीत में गोविंद देव ने कहा कि सरकार अधिकतम दो बच्चों पर जोर दे रही है, लेकिन जब तक समान नागरिक संहिता लागू न हो जाए, तब तक हिंदुओं को कम से कम चार बच्चे पैदा करने चाहिए। उन्होंने कहा कि जिन क्षेत्रों में हिंदुओं की संख्या कम हुई, उनमें से कई क्षेत्रों को भारत ने खो दिया। बता दें कि धर्म संसद में 2,000 से ज्यादा हिंदू संत, मठाधीश और देश भर के विहिप नेता हिस्सा ले रहे हैं।

तटीय कर्नाटक के उडुपी में विश्व हिंदू परिषद (विहिप) की ओर से आयोजित तीन दिवसीय धर्म संसद के दूसरे दिन महाराज ने कहा, 'जिन क्षेत्रों में हिंदू आबादी कम हुई उन क्षेत्रों को भारत ने खो दिया, जिससे जनांकिकीय असंतुलन पैदा हुआ, इसलिए दो बच्चों की नीति सिर्फ हिंदुओं के लिए ही सीमित नहीं रहनी चाहिए।' उन्होंने इसलिए ऐसा कहा ताकि 'जनांकिकीय असंतुलन' पर लगाम लगाई जा सके।

मॉब लिंचिंग के सवाल पर गोविंद देव ने कहा कि ‘गौरक्षकों’ की आड़ में कुछ अपराधी अपना निजी हिसाब-किताब चुकता कर रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘गौरक्षक शांति प्रिय लोग हैं। कुछ निहित स्वार्थ वाले तत्वों की ओर से उन्हें बदनाम किया गया है। कुछ अपराधी गौरक्षकों की आड़ में अपना निजी हिसाब-किताब चुकता कर रहे हैं।

साक्षी महाराज भी दे चुके हैं ऐसा बयान

गौरतलब है कि हिंदू को बच्चे पैदा करने की सलाह इससे पहले भी कई बीजेपी नेताओं समेत हिंदू संगठनों से जुड़े नेताओं द्वारा दी जाती रही है। 2015 में उन्नाव से बीजेपी के सांसद साक्षी महाराज ने कहा था कि हर हिंदू महिला को कम से कम 4 बच्चे जरूर पैदा करने चाहिए। उन्होंने कहा था कि हिंदू महिलाएं चार बच्चे पैदा करें, इनमें से एक बच्चे को सीमा पर भेज दो, एक संतों को दे दो। उन्होंने इसके साथ 'चार बीवियों और 40 बच्चों के कॉन्सेप्ट के भारत में नहीं चलने की बात भी कही थी।