दैनिक भास्कर हिंदी: खातों में 15-15 लाख डालने के लिए RBI से पैसा मांग रहे हैं, वो दे नहीं रहे- आठवले

December 18th, 2018

हाईलाइट

  • ब्लैक मनी पर बीजेपी मंत्री रामदास आठवले ने की टिप्पणी
  • आठवले ने कहा, 15-15 लाख खाते में डालने के लिए RBI से मांग रहे है पैसा

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 2014 में चुनाव प्रचार के दौरान कहा था कि सत्ता में आने पर पर विदेशों में जमा कालाधन स्वदेश लाया जाएगा। उनकी सरकार इस धन मे से हर भारतीय के खाते में 15-15 लाख रुपये जमा करेगी, लेकिन सत्ता में आने पर सरकार की ओर से ऐसा कुछ भी नहीं किया गया जिसको लेकर विपक्ष लगातार मुद्दा बनाता रहा है। हालांकि अब केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने कहा है कि 15 लाख धीरे-धीरे लोगों के खाते में जाएगा।

मोदी सरकार में केंद्रीय समाजिक न्याय मंत्री रामदास आठवले ने सांगली इस्लामपुर में मराठी में बोलते हुए कहा कि हर नागरिक के खाते में 15 लाख जमा करने का वादा हमारी सरकार ने किया था। इतनी बड़ी रकम सरकार के पास नहीं है। हमारी सरकार लगातार कोशिश कर रही है की सभी के खाते 15-15 लाख रूपये की धन राशि जमा की जाए, लेकिन इस रास्ते में RBI रोड़ा बन रहा है।

आठवले ने कहा, हम प्रत्येक भारतीय के खाते में पैसा जमा कराने के लिए RBI से मांग रहे हैं, लेकिन वो दे नहीं रहे। इसमें तकनीकी समस्याएं है। यह एक साथ नहीं हो पाएगा, लेकिन धीरे-धीरे सभी के खातों में पैसा जमा कर दिया जाएगा। बता दें कि पीएम मोदी 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान अपनी रैलियों में 'काला धन वापस लाने' को लेकर कहा था कि हम कालेधन पर ऐसी चोट करेंगे कि हर एक भारतीय के खाते में 15-15 लाख रुपए आएंगे। 2016 में एक जनहित याचिका में पूछा गया कि यह पैसा खाते में कब आएंगे। 

रामदास आठवले ने 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव को लेकर कहा कि बीजेपी और शिवसेना को साथ मिलकर चुनाव लड़ना चाहिए। लोकसभा से पहले मिलकर सीटों का बंटवारा कर दिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा, राज्य में सरकार बनाने की स्थिति में जिसके ज्यादा विधायक हों मुख्यमंत्री उसका ही हो या फिर ढाई-ढाई साल के दोनों के मुख्यमंत्री हों ऐसा फॉर्मूला होना चाहिए। मैं इसके लिए दोनों से बात करके मध्यस्थता स्थापित करूंगा। 

खबरें और भी हैं...