दैनिक भास्कर हिंदी: अयोध्या पहुंची भारत-नेपाल मैत्री बस, सीएम योगी ने किया वेलकम

May 12th, 2018

डिजिटल डेस्क, अयोध्या। नेपाल के जनकपुर से अयोध्या पहुंची भारत-नेपाल मैत्री बस सेवा और उनके यात्रियों का उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्वागत किया। शनिवार को अयोध्या के रामकथा पार्क में जनकपुर-अयोध्या बस सेवा का सीएम और पर्यटन मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने ने वेलकम किया। इस बस सर्विस का उद्घाटन पीएम नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को नेपाल के जनकपुर में किया था। नेपाल-भारत मैत्री बस 66 यात्रियों को लेकर शनिवार सुबह अयोध्या पहुंची।

 

 

 

 

शुरु होगी विकास की यात्रा  

जनकपुर-अयोध्या बस सर्विस के स्वागत कार्यक्रम में सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कई साल पहले से अयोध्या और जनकपुर का रिश्ता रहा है। भारत में कई प्रधानमंत्री आए और चले गए, लेकिन इस रिश्ते को मजबूत करने के लिए किसी ने भी नहीं सोचा। पीएम मोदी के प्रयास से ये मैत्री बस सेवा शुरू हुई है।

 

 

योगी आदित्यनाथ ने कहा भारत- नेपाल सांस्कृतिक सबन्धों को पीएम मोदी ने नया आयाम दिया। हमें खुशी है कि सांस्कृतिक संबंधों की एक नई कड़ी शुरू हुई है। अयोध्या-जनकपुर बस सेवा दोनों देशों के संबंधों को मजबूत करेगी साथ ही विकास की यात्रा की भी शुरुआत होगी।

 

 

 

 

डाक विभाग की तरफ से प्रकाशित ‘स्पेशल कवर’ का अनावरण

कार्यक्रम के दौरान ही सीएम योगी ने भारतीय डाक विभाग की तरफ से प्रकाशित ‘स्पेशल कवर’ का अनावरण भी किया। ये स्पेशल कवर पिछले साल दीवाली के मौके पर अयोध्या में सरयू तट पर आयोजित ‘दीपोत्सव’ कार्यक्रम पर आधारित है। डाक विभाग का ये प्रकाशन अयोध्या की वैश्विक पहचान स्थापित कर राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय पर्यटकों को आकर्षित करेगा। वहीं दीपोत्सव के आयोजन की स्मृतियों को लंबे समय तक संरक्षित करने में भी सहायक होगा।

 

 

 

 

इस बस सर्विस के जरिए श्रद्धालु भगवान श्रीराम की जन्मस्थली अयोध्या और माता जानकी की जन्मस्थली जनकपुर धाम के बीच की 520 किलोमीटर की दूरी को सुविधापूर्ण ढंग से तय कर सकेंगे। जनकपुर-अयोध्या बस सेवा के जरिए भारत नेपाल से मित्रता का नया अध्याय जोड़ने जा रहा है।

 

 

दो दिवसीय नेपाल यात्रा पर पीएम मोदी 

पीएम मोदी ने अपनी दो दिवसीय नेपाल यात्रा के दौरान जनकपुर-अयोध्या के बीच मैत्री बस सेवा का शुभारम्भ कर कहा था कि भारत और जनकपुर का रिश्ता अटूट है। गौरतलब है कि जनकपुर -अयोध्या मैत्री बस सेवा नेपाल और भारत में तीर्थाटन को बढ़ावा देने के लिए रामायण सर्किट का हिस्सा है।

 

 

भारत सरकार के पर्यटन विभाग के रामायण सर्किट परियोजना में 15 स्थलों का नाम शामिल है जो नेपाल के अलावा भारत के नौ राज्यों में स्थित हैं। इनमें उत्तर प्रदेश में स्थित अयोध्या, नंदीग्राम, श्रृंगवेरपुर और चित्रकूट शामिल हैं। वहीं बिहार के सीतामढ़ी, बक्सर, दरभंगा, ओडिशा के महेंद्रगिरि, महाराष्ट्र के नासिक और नागपुर, तेलंगाना के भद्रचलम, कर्नाटक के हंपी और तमिलनाडु के रामेश्वरम का नाम शामिल है।