दैनिक भास्कर हिंदी: दिल्ली एम्स में लालू से मिले मोदी के मंत्री उपेंद्र कुशवाहा, सियासी अटकलें तेज

March 30th, 2018

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। चारा घोटाले में दोषी पाए जाने के बाद रांची जेल में सजा काट रहे लालू को तबीयत खराब होने के चलते इलाज के लिए दिल्ली एम्स लाया गया। जहां आते ही उन्होंने बीजेपी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने बिहार सीएम नीतीश कुमार पर जमकर हमला बोला है। लालू ने कहा नीतीश कुमार अब खत्म हो गए हैं। लालू ने कहा, 'आज पूरे बिहार में अराजकता फैली हुई है। बीजेपी ने पूरे राज्य को आग के हवाले कर दिया है।' इसी बीच बीजेपी के केंद्रीय मानव संसाधन राज्य मंत्री उपेन्द्र कुशवाहा लालू का हालचाल पूछने एम्स गए।

 

 

उन्होंने अपनी और लालू की फोटो ट्विटर पर शेयर करते हुए इस बात की जानकारी दी। इसके बाद से सोशल मीडिया पर उनके पार्टी से अलग होने की अटकलें भी शुरू हो गई हैं। बता दें कि उपेंद्र कुशवाहा राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (RLSP) के संस्थापक और बिहार के काराकट से सांसद भी हैं। उनकी पार्टी RLSP केंद्र की एनडीए सरकार में भागीदार है। इससे पहले भी पटना में एक कार्यक्रम का आयोजन हुआ था, जिसमें आरजेडी के सदस्य भी शामिल हुए थे। जिसके बाद अमित शाह ने उपेंद्र कुशवाहा से मुलाकात कर उन्हें एनडीए सरकार के खिलाफ राजनीतिक दुर्व्यवहार न करने के लिए आगाह किया था।

 

मुलाकात ने खड़े किए सवाल

हालांकि इस मुलाकात पर जदयू जदयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने कहा कि मुलाकात का राजनीतिक अर्थ न निकाले, कुशवाहा एनडीए में हैं और आगे भी रहेंगे। बता दें कि इससे पहले भी कुशवाहा कई बार इशारों-इशारों में एनडीए के खिलाफ बयानबाजी कर चुके हैं। पार्टी के मुखियाओं से हिदायत मिलने के बाद भी कुशवाहा की लालू से की गई मुलाकात ने सवाल खड़े कर दिए हैं। कयास लगाए जा रहे हैं कि क्या उनकी पार्टी एनडीए से अलग हो सकती है? 

 

लालू की मेडिकल जांच शुरू

लालू को राजेद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (रिम्स) में भर्ती कराया गया था। इसके बाद रिम्स ने लालू को दिल्ली के अखिल भारतीय आर्युविज्ञान संस्थान (एम्स) के लिए रेफर कर दिया। उन्हें गुरूवार को दिल्ली लाया गया। उनके बल्ड में शुगर की मात्रा बढ़ी हुई है और उनके गुर्दे में भी संक्रमण है। फिलहाल लालू की हालत स्थिर है। बता दें कि एम्स के पांच चिकित्सकों की विशेष टीम ने लालू का उपचार शुरू कर दिया है। बृहस्पतिवार को एम्स के सर्जिकल इमरजेंसी में पहुंचने के बाद उनकी चिकित्सीय जांच शुरू हुई। जांच के बाद उन्हें प्राइवेट वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया है। 

 

सूत्रों के मुताबिक उन्हें कमरा नंबर 101 मिला है। एक वरिष्ठ चिकित्सक ने बताया कि कार्डियो, एंड्रोकाइनोलॉजी, यूरोलॉजी, सर्जरी विभाग के डॉक्टरों ने लालू की जांच शुरू कर दी है। उनकी रक्त जांच के लिए सैंपल प्रयोगशाला में भेजे गए हैं।

 

शुक्रवार को रिपोर्ट आने के बाद ही उपचार शुरू होगा। साथ ही एम्स ने इस बाबत आधिकारिक बयान जारी नहीं किया है। डॉक्टर ने ये भी बताया है कि लालू यादव किस गंभीर बीमारी से ग्रस्त हैं? इसके बारे में रिपोर्ट आने के बाद ही पता चल पाएगा।