दैनिक भास्कर हिंदी: पाकिस्तान में सार्वजनिक स्थानों पर मास्क पहनना अनिवार्य

May 31st, 2020

हाईलाइट

  • पाकिस्तान में सार्वजनिक स्थानों पर मास्क पहनना अनिवार्य

इस्लामाबाद, 31 मई (आईएएनएस)। पाकिस्तान में कोरोनावायरस का प्रकोप लगातार बढ़ता जा रहा है, जिसके मद्देनजर यहां की सरकार ने सभी भीड़ वाले स्थानों, बाजारों और सार्वजनिक परिवहन में मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया है।

डॉन न्यूज ने शनिवार को प्रधानमंत्री के विशेष सहायक जफर मिर्जा का हवाला देते हुए कहा, 92 प्रतिशत मामलें स्थानीय प्रसारण के माध्यम से फैल रहे हैं, इसलिए हमने, बाजारों, शॉपिंग मॉल, सार्वजनिक परिवहन, वाणिज्यिक उड़ानों, ट्रेनों और भीड़भाड़ वाले स्थानों में अनिवार्य रूप से मास्क उपयोग करने की घोषणा की है।

विदेशों में फंसे पाकिस्तानियों को वापस लाने के बारे में बात करते हुए प्रधानमंत्री के विशेष सहायक, राष्ट्रीय सुरक्षा विभाग के मोइद यूसुफ ने कहा, हम रोजाना 1,000 पाकिस्तानियों को वापस ला रहे थे, लेकिन अब हमने 2,000 पाकिस्तानी लाने का निर्णय किया है। एक जून से 10 जून तक 20,000 फंसे हुए पाकिस्तानियों को वापस लाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि अब तक 50 से अधिक देशों में फंसे लगभग 33,000 पाकिस्तानियों को लाया जा चुका है।

नियमित उड़ान संचालन को फिर से बहाल करने के बारे में बात करते हुए, उन्होंने कहा कि केवल पाकिस्तान से अन्य देशों के लिए उड़ानों की अनुमति दी गई है।

डॉन न्यूज के रिपोर्ट के अनुसार, यूसुफ ने कहा कि चीन और भारत की सीमाएं बंद रहेंगी, हालांकि कुछ सौ पाकिस्तानियों को तीन दिनों के अंतरालों में भारत से लौटने की अनुमति दी गई है।

उन्होंने कहा, अफगान ट्रांजिट ट्रेड के समझौते के अनुसार, सामानों को अफगानिस्तान भेजा जा रहा है। नाटो की आपूर्ति भी वहां हो रही है। तोरखम और चमन सीमाओं से प्रतिदिन लगभग 250 ट्रकों को जाने की अनुमति दी जा रही है। इसके अलावा, सप्ताह में एक बार में 500 पाकिस्तानी लोगों को तोरखम और 300 पाकिस्तानी को चमन सीमा से लौटने की अनुमति है।

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान में रह रहे अफगान नागरिकों के अपने देश लौटने पर कोई प्रतिबंध नहीं है।

देश में कोरोनावायरस मामलों की संख्या 68,544 हो गई है, जबकि 1,447 लोगों की इस वायरस के चपेट में आने से मौत हो गई है।