दैनिक भास्कर हिंदी: Tej Pratap-Aishwarya Wedding: आशीर्वाद देने पहुंचे नीतीश कुमार, लालू ने लगाया गले

May 13th, 2018

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। पटना के वेटनरी कॉलेज कैम्पस में आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव की शादी में बिहार के CM नीतीश कुमार भी पहुंचे । कार्यक्रम में कई सियासी हस्तियां पहुंची। इनमें सबसे खास एंट्री बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की रही। वे करीब 8:30 बजे कार्यक्रम में पहुंचे। लालू यादव ने गले लगाकर उनका स्वागत किया। इसके बाद नीतीश कुमार दूल्हा-दुल्हन को आशीर्वाद देने के लिए स्टेज पर भी पहुंचे। स्टेज पर वे राबड़ी देवी और तेजप्रताप के साथ बातें करते भी नजर आए।
 



तेजप्रताप की शादी विधायक चंद्रि‍का राय की बेटी ऐश्वर्या से हुई है। नीतीश कुमार के अलावा तेजप्रताप की शादी में पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह, पूर्व बीजेपी नेता राम जेठमलानी, सपा नेता अखिलेश यादव और उनकी पत्नी डिंपल यादव भी शामिल हुए। तेज प्रताप 10 सर्कुलर रोड से बारात लेकर वेटनरी ग्राउंड पहुंचे थे। यहां वर-वधु ने एक-दूसरे को जयमाला पहनाई।

 

 

बारात में हजारों की संख्या में लोग दिखाई दिए। कार्यक्रम में भी भीड़ देखकर अनुमान लगाया गया कि करीब 10 से 15 हजार लोग शादी में शरीक हुए हैं। 
 



क्रीम कलर की शेरवानी में दूल्हे राजा

तेज प्रताप वेडिंग सेरेमनी में क्रीम कलर की प्रिंटेड शेरवानी और गोल्डेन सेहरे में नजर आए। इस दौरान उनके साथ उनकी मां राबड़ी देवी भी क्रीम कलर की साड़ी में दिखाई दीं। अपने बेटे की शादी में राबड़ी देवी एक अलग ही उत्साह में नजर आईं। राबड़ी देवी का ऐसा लूक आपने पहले कभी नहीं देखा होगा।


 



10 महीने बाद मिले लालू-नीतीश

बिहार में महागठबंधन टूटने के बाद यह पहला मौका है जब नीतीश और लालू प्रसाद यादव एक साथ नजर आए हैं। तेज प्रताप की शादी में लालू प्रसाद का पूरा परिवार नीतीश कुमार से गर्मजोशी के साथ मिला। स्टेज पर भी उन्होंने लाल गुलाब का गुलदस्ता देकर दांपत्य जीवन की बधाई दी।



 

शादी में खाने को लेकर हंगामा 

तेज प्रताप की शादी के बाद बिहार के दो सियासी परिवारों की दोस्ती रिश्तेदारी में बदल गई है। वहीं भारी संख्या में समर्थक तथा जन सैलाब इस दिन के साक्षी बने। लोगों की भारी भीड़ में उस वक्त हंगामा मच गया जब उन्होंने वीआईपी और मीडिया के लिए बने पंडाल को अलग करने वाले घेरे को तोड़ दिया। लोग खाने पर टूट पड़े और खाने का सामान भी लूटने लगे।

 

 

हालांकि शादी समारोह में जुटने वाले हजारों लोगों के लिए खास इंतजाम किए गए थे, लेकिन जैसे ही जयमाला हुआ उसके कुछ देर बाद ही लोग खाने की चीजें लूटने लगे। 

 

 

भीड़ ने तोड़-फोड़ कर लूटे सामान

भीड़ में शामिल लोग खाने का सामान लेकर भागने लगे वहीं कुछ लोगों ने बर्तन तक तोड़ डाले। केटरिंग वालों का आरोप लगाया है कि कुछ लोग उनका सामान लूट ले गए।  कुछ देर बाद वहां पर सिर्फ टूटी क्राकरी, उल्टे टेबल और कुर्सियां पड़ी दिखाई दे रही थीं। अनियंत्रित भीड़ में शामिल लोग बर्तन और अन्य चीजें लूट ले गए। कई कैमरामैन सहित मीडियाकर्मियों ने भी शिकायत की कि उनके साथ हाथापाई भी हुई। लोगों को संभालने के लिए आरजेडी के कुछ कार्यकर्ताओं ने लाठी का सहारा भी लिया।  

 

 

जयमाला के मंच का एक हिस्सा टूटा

वहीं जयमाला के समय भीड़ के कारण मंच का एक हिस्सा भी टूट गया, जिसमें करीब 20 से 25 लोगों को मामूली चोटें आई हैं। हादसे के दौरान मंच पर लालू यादव और उनके समधी चंद्रिका राय का पूरा परिवार मौजूद था। जयमाला के बाद वर-वधु को आशीर्वाद देने के लिए कई और लोग मंच पर चढ़े। अधिक वजन होने की वजह से मंच का एक हिस्सा टूट कर गिर गया, जिसके बाद वहां अफरा-तफरी मच गई।

 

 

हालांकि मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने व्यवस्था को संभाल लिया। इस हादसे में तेजस्वी यादव के सुरक्षाकर्मी अमरेश कुमार सिंह घायल हुए हैं। उन्हें तुरंत अस्पताल ले जाया गया।