दैनिक भास्कर हिंदी: लोकसभा चुनाव के नतीजों से उत्साहित रामदेव बोलें, 23 मई को मनाया जाए 'मोदी दिवस'

May 28th, 2019

हाईलाइट

  • योग गुरु रामदेव ने कहा, 23 मई को मोदी दिवस के रुप में मनाया जाए
  • 23 मई को लोकसभा चुनाव परिणामों की घोषणा की गई थी
  • रामदेव, पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड के सह-संस्थापक भी हैं

डिजिटल डेस्क, हरिद्वार। लोकसभा चुनाव में भाजपा की भारी जीत से उत्साहित योग गुरु रामदेव ने सोमवार को कहा कि 23 मई, जिस दिन चुनाव परिणाम की घोषणा की गई थी, उसे 'मोदी दिवस' ​​के रूप में मनाया जाना चाहिए।

करोड़ों लोगों का विश्वास जीतने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा, 'एक तरफ 'महागठबंधन' था और दूसरी तरफ अकेले मोदी थे। उन्होंने चुनाव लड़ा और उत्तर प्रदेश में शानदार जीत दर्ज की। लोग अब उनके हाथों में सुरक्षित हैं।' पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा, '23 मई, जिस दिन बीजेपी बड़े पैमाने पर जनादेश के साथ चुनाव जीती थी, उसे या तो मोदी दिवस या लोक कल्याण दिवस के रूप में मनाया जाना चाहिए।'

रामदेव, जो पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड के सह-संस्थापक भी हैं, ने रविवार को कहा था कि जनसंख्या वृद्धि को रोकने के लिए, सरकार को एक कानून लाना चाहिए जिसमें तीसरे बच्चे को मतदान के अधिकार से वंचित रखा जाए। उन्होंने गोहत्या पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने की भी मांग की थी और कहा था कि यह गौ तस्करों और 'गौ रक्षको' के बीच संघर्ष को कम करने का एकमात्र तरीका है।

उन्होंने कहा था, 'गोहत्या पर पूर्ण प्रतिबंध होना चाहिए और यह संघर्ष को समाप्त करने का एकमात्र तरीका है जो हम गाय तस्करों और गौ रक्षक के बीच देखते हैं। जो लोग मांस खाना चाहते हैं, उनके लिए कई अन्य प्रकार के मांस हैं वो उसे खा सकते हैं।' 

बता दें कि वर्ष 2019 के चुनाव में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एडीए ने प्रचंड बहुमत पाया है। एनडीए को कुल 353 सीटें मिली है। वहीं, भाजपा ने अकेले 303 सीटों पर जीत का परचम लहराया है। सरकार बनाने के लिए सिर्फ 272 सीटों की जरूरत होती है और इससे कहीं ज्यादा अकेले भाजपा के पास है। पूरे देश में एनडीए और भाजपा समर्थक इस ऐतिहासिक जीत की सफलता का जश्न मना रहे हैं। कहीं समर्थक मुफ्त में चाय पिला रहे हैं तो कहीं मुफ्त में ऑटो की सवारी कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...