comScore
Dainik Bhaskar Hindi

शिक्षक ने मुख्यमंत्री कमलनाथ को कहा था डाकू, CM ने दिखाई दरियादिली

BhaskarHindi.com | Last Modified - January 12th, 2019 16:29 IST

6.3k
0
1
शिक्षक ने मुख्यमंत्री कमलनाथ को कहा था डाकू, CM ने दिखाई दरियादिली

News Highlights

  • अभद्र टिप्पणी करने वाले शिक्षक को सीएम कमलनाथ ने किया माफ
  • कमलनाथ को शिक्षक ने बताया था डाकू


डिजिटल डेस्क, भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाले शिक्षक मुकेश तिवारी को खुद सीएम कमलनाथ ने माफ कर दिया है। सीएम कमलनाथ ने कहा, जबलपुर के एक शासकीय स्कूल में पदस्थ शिक्षक ने मुझे डाकू शब्द से संबोधित किया है। एक मुख्यमंत्री पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने पर निलंबन की कार्यवाही होनी चाहिए, यह नियमो के हिसाब से सही हो सकता है, लेकिन में व्यक्तिगत रूप से मैं इन्हें माफ करना चाहता हूं। मैं नहीं चाहता हूं कि इन पर कोई कार्यवाही हो। लोकतंत्र में अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता सभी को है, मेरा ऐसा मानना है। मैं सदैव इसका पक्षधर रहा हूं।

कमलनाथ ने कहा, एक शिक्षक का काम होता है। समाज का नवनिर्माण करना। विद्यार्थीयों को अच्छी शिक्षा देना। उम्मीद करता हूं कि वे भविष्य में अपने कर्तव्यों पर ध्यान देंगे। सीएम कमलनाथ ने कहा, यह भी सही है कि शासकीय सेवा में पदस्थ रहते हुए उनका यह आचरण नियमो का उल्लंघन हो सकता है, इसलिये उन पर निलंबन की कार्यवाही की गई है, लेकिन मैं यह सोचता हूं कि इन्होंने इस पद पर आने के लिये कितने वर्षों तक तपस्या, मेहनत की होगी। इनका पूरा परिवार इन पर आश्रित होगा। निलंबन की कार्यवाही से इन्हें परेशानियो से गुजरना पढ़ सकता है। सीएम कमलनाथ कहा, मैंने जिला प्रशासन को निर्देश दिये है कि इनका निलंबन अविलंब समाप्त हो। इन पर कोई कार्यवाही ना की जाए। कमलनाथ ने कहा वह खुद तय करें कि जो इन्होंने जनता की चुनी हुई सरकार के मुख्यमंत्री के लिए कहा है, क्या वह सही है ?

बता दें कि कांग्रेस नेताओं की शिकायत पर जिला कलेक्टर छवि भारद्वाज ने शासकीय कनिष्ठ बुनियादी माध्यमिक शाला राइट टाउन के प्रधानाध्यापक मुकेश तिवारी को सिविल सेवा आचरण नियम 1965 के उपनियम 1,2,3 के उल्लंघन के मामले में निलंबित कर दिया है। शिकायत में कहा गया था कि वायरल हुए वीडियो में एक बैठक को संबोधित करते हुए मुकेश तिवारी ने कथित तौर पर कहा, पिछले 14 साल के भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) शासनकाल में सेवा भारती प्रताड़ित हुई है। अब कांग्रेस की सरकार आ गई है, जब अपने वालों ने परेशान किया तो गैरों से क्या उम्मीद कर सकते हैं। हमारे शिवराज हैं, तो कमलनाथ डाकू हैं। 32 सैकेंड का ये वीडियो वायरल होने के बाद स्थानीय कांग्रेसी नेताओं ने प्रधानाध्यापक के कृत्य की शिकायत जिला कलेक्टर छवि भारद्वाज से की थी। निलंबन आदेश के मुताबिक, निलंबन अवधि के दौरान तिवारी ब्लॉक शिक्षा अधिकारी जबलपुर से सम्बद्ध रहेंगे। 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download