comScore

गडकरी ने कहा - कुछ समय बाद दुनिया के बड़े शहरों से जुड़ेगा नागपुर हवाई अड्‌डा, दैनिक भास्कर के समन्वय संपादक का हुआ सत्कार

गडकरी ने कहा - कुछ समय बाद दुनिया के बड़े शहरों से जुड़ेगा नागपुर हवाई अड्‌डा, दैनिक भास्कर के समन्वय संपादक का हुआ सत्कार

डिजिटल डेस्क, नागपुर। केंद्रीय मंत्री नितीन गडकरी ने कहा कि उपराजधानी का एयरपोर्ट, अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट बनने जा रहा है। आगमी 15 दिन में इसका भूमिपूजन होगा। दो वर्ष में काम पूरा होकर नागपुर विश्व के अन्य देशों से जुड़ जाएगा। दुबई और सिंगापुर के लिए सीधे हवाई सेवा शुरू हाेने पर कई देशों के साथ कनेक्टिविटी होगी। इसके अलावा उन्होंने कहा कि नाग विदर्भ चेंबर ऑफ कॉमर्स की शहर में व्यवसाय को विकसित करने में अहम भूमिका रही है। चेंबर को चाहिए की 25 वर्ष तक परिणाम दिख सके, ऐसा विजन तैयार करे। राज्य और केंद्र सरकार इसमें पूरी सहायता करेगी। नाग विदर्भ चेंबर ऑफ कॉमर्स के अमृत महोत्सव समारोह में वे बोल रहे थे। रामदासपेठ स्थित होटल तुली इंपीरियल में कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम में ‘दैनिक भास्कर’ के समन्वय संपादक आनंद निर्बाण और वरिष्ठ पत्रकार सोपान पांढरीपांडे का सत्कार किया गया।

उद्योग और व्यापार का बना केंद्र

उन्होंने का कि मिहान का विकास तेजी से चल रहा है। आने वाले समय में उद्योग और व्यापार का केंद्र बनेगा। औद्योगिक विकास होने के साथ रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। एचसीएल कंपनी वापस जाना चाहती थी। कंपनी के साथ बातचीत कर मन परिवर्तन किया गया। उसे अतिरिक्त जमीन आवंटित की गई है। इस कंपनी में 10 हजार बेरोजगारों को रोजगार का अवसर मिलेगा। अन्य कंपनियां मिहान में कदम रखने की इच्छुक हैं। खापरी परिसर के दो ऑइल डिपो हटाकर इसकी जमीन का औद्योगिक विकास के लिए उपयोग किया जाएगा। अजनी स्टेशन को मल्टी मॉडल हब के रूप में विकासित किया जाएगा। जेल की जगह भी ली जाएगी। जेल को कोराडी रोड पर स्थानांतरित किया जाएगा। लॉजिस्टिक पार्क की योजना पर भी काम चल रहा है। यह साकार होने पर रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। फुले मार्केट, नेताजी मार्केट, यशवंत स्टेडियम का कायापलट किया जाएगा। यहां सीताबर्डी के मेट्रो स्टेशन से जोड़कर वातानुकूलित मार्केट तैयार किया जाएगा। स्टेडियम भी रहेगा और डॉ. बाबासाहब आंबेडकर स्मारक बनाया जाएगा। शहर के 6 रास्तों की चौड़ाई बढ़ाई जाएगी।

अखबार जगत में नैतिक मूल्यों का पतन चिंताजनक : निर्बाण

‘दैनिक भास्कर’ के समन्वय संपादक आनंद निर्बाण ने कहा कि अखबार जगत में प्रतिस्पर्धा बढ़ने के साथ ही नैतिक मूल्यों का पतन चिंता का विषय है। प्रिंट मीडिया में अवांछित रूप से इलेक्ट्रॉनिक मीडिया से स्पर्धा शुरू की थी। अब मीडिया की घटती साख को देखते हुए प्रिंट मीडिया वापस अपने दायित्व काे समझकर लोगों में विश्वसनीयता कायम करने में जुटा है। इसमें पारदर्शी पत्रकारिता करने वाले लोग पूरा-पूरा योगदान दे रहे हैं। आशा है कि, अच्छा वेतनमान लोगों को अधिक इमानदारी से काम करने की प्रेरणा देगा। हालांकि पहले वेतन कम था और पत्रकार अपने कार्यों के प्रति अधिक कटिबद्ध थे। 

भागवत-गडकरी से उईके ने की मुलाकात

छत्तीसगढ़ की नवनियुक्त राज्यपाल अनुसुया उईके ने शनिवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक  डॉ. मोहन भागवत व केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्री नितीन गडकरी से मुलाकात की। भोंसले राज परिवार के राजे मुधोजी भोंसले से मुलाकात के लिए उनके महल स्थित आवास पर भी पहुंचीं। बाद में वे छिंदवाड़ा के लिए रवाना हो गईं। इस बीच कार्यकर्ताओं से चर्चा में वे कहती रहीं कि राजनीति ही नहीं, हर क्षेत्र में जवाबदारी निभाते रहिए। पद मिलते रहेंगे। राज्यपाल नियुक्त जाने को लेकर उनका कहना था कि पहले कभी भी इस पद के बारे में उन्होंने सोचा नहीं था। न ही किसी ने उनसे इस बारे में चर्चा की थी। राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग की उपाध्यक्ष के तौर पर अभी उनका 6 माह का कार्यकाल शेष है। सुश्री उईके के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें फोन पर शुभकामनाएं देते हुए कहा कि आपको छत्तीसगढ़ का राज्यपाल नियुक्त किया जा रहा है। प्रधानमंत्री का फोन ही उनके लिए राज्यपाल चुने जाने की पहली सूचना थी। राज्यपाल  के लिए फिलहाल पदग्रहण नहीं हुआ है। शुक्रवार की रात को वे दिल्ली से यहां पहुंचीं। सरकारी आवास रविभवन में विश्राम किया। शनिवार को सुबह से ही उनके परिचित उनसे मिलने आने लगे। राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग की सदस्य माया इवनाते भी उनके साथ थीं। सुबह सबसे पहले वे रामनगर स्थित केंद्रीय मंत्री गडकरी के आवास पर उनसे मुलाकात के लिए पहुंचीं। उनके साथ सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधि भी थे।

कमेंट करें
1QTvJ