comScore

ऑस्ट्रेलिया का एशेज पर कब्जा बरकरार, चौथे टेस्ट में इंग्लैंड को 197 रनों से हराया

ऑस्ट्रेलिया का एशेज पर कब्जा बरकरार, चौथे टेस्ट में इंग्लैंड को 197 रनों से हराया

हाईलाइट

  • ऑस्ट्रेलिया ने रविवार को ओल्ड ट्रैफर्ड में इंग्लैंड को 185 रनों से हरा दिया
  • इस जीत के साथ ही ऑस्ट्रेलिया ने एशेज ट्रॉफी पर अपना कब्जा बरकरार रखा है
  • ऑस्ट्रेलिया ने टेस्ट सीरीज में 2-1 की बढ़त बना ली है

डिजिटल डेस्क, मैनचेस्टर। ऑस्ट्रेलिया ने रविवार को ओल्ड ट्रैफर्ड में इंग्लैंड को 185 रनों से हरा दिया। इस जीत के साथ ही ऑस्ट्रेलिया ने एशेज ट्रॉफी पर अपना कब्जा बरकरार रखा है। ऑस्ट्रेलिया ने टेस्ट सीरीज में 2-1 की बढ़त बना ली है। इंग्लैंड के सामने आस्ट्रेलिया ने जीत के लिए 383 रनों की चुनौती रखी थी। अंतिम दिन इंग्लैंड की टीम 197 रन बनाकर ऑलआउट हो गई। आस्ट्रेलिया की ओर से दूसरी पारी में पैट कमिंस ने 4 विकेट झटके।

चौथे दिन का खेल खत्म होने तक मेजबान इंग्लैंड की टीम ने 2 विकेट पर 18 रन बना लिए थे। रविवार को पांचवें दिन इंग्लैंड की शुरुआत अच्छी रही। जो डेनली और जेसन रॉय ने पारी को आगे बढ़ाते हुए टीम को 50 रन के पार पहुंचाया और तीसरे विकेट के लिए अर्धशतकीय साझेदारी पूरी की। लेकिन 66 के स्कोर पर पैट कमिंस ने जेसन रॉय को बोल्ड कर अपनी टीम को दिन की पहली सफलता दिलाई।

रॉय एक बार फिर बड़ी पारी खेलने में नाकाम रहे और केवल 31 रन बना सके। इसके बाद बल्लेबाजी करने आए बेन स्टोक्स भी कोई कमाल नहीं दिखा सके। उन्हें भी कमिंस ने विकेटकीपर पेन के हाथों कैच कराकर पवेलियन वापस भेज दिया। इस तरह टीम का स्कोर 74 रन पर चार विकेट हो गया। लंच तक इंग्लैंड ने चार विकेट पर 87 रन बना लिए थे।

लंच के बाद जोए डेनली ने 48 और जॉनी बेयरस्टो ने अपनी पारी को 2 रन से आगे बढ़ाया। मेजबान टीम ने लंच के बाद अपने स्कोर में छह रन का ही इजाफा किया था कि डेनली अपना विकेट गंवा बैठे। डेलनी को लॉयन ने मार्नस लाबुशाने के हाथों कैच कराया। डेनली ने 123 गेंदों पर छह चौकों की मदद से 53 रनों की अर्धशतकीय पारी खेली।

इसके बाद बेयरस्टो ने बटलर के साथ मिलकर छठे विकेट के लिए 45 रनों की साझेदारी की। बेयरस्टो टीम के 138 के स्कोर पर छठे बल्लेबाज के रूप में मिशेल स्टॉर्क की गेंद पर आउट हुए। बेयरस्टो ने 61 गेंदों पर एक चौके के सहारे 25 रनों का योगदान दिया। बेयरस्टो के आउट होने के बाद बटलर और ओवर्टन ने चायकाल तक इंग्लैंड को और कोई झटका नहीं लगने दिया।

चायकाल के बाद ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों ने जोस बटलर का विकेट झटक लिया। बटलर हेजलवुड की रिवर्स स्विंग को नहीं समझ पाए और डिफेंसिव शॉट खेलते हुए बोल्ड हो गए। उन्होंने 111 गेंद में 34 रन की पारी खेली। बटलर के आउट होने के बाद बल्लेबाजी करने आए जोफ्रा आर्चर भी 1 रन बनाकर चलते बने। उन्हें लॉयन की गेंद पर अंपायर ने एलबीडब्ल्यू करार दिया। अंत में जैक लीच और क्रैग ओवरटन ने थोड़ा संघर्ष किया लेकिन दोनों ही हार को नहीं टाल सके।

आस्ट्रेलिया की ओर से पैट कमिंस को चार, नाथन लॉयन और जोश हेजलवुड को 2-2, मिशेल स्टार्क और मार्नस को एक-एक सफलता हाथ लगी। इससे पहले, आस्ट्रेलिया ने स्टीवन स्मिथ के पहली पारी में बनाए दोहरे शतक (211) के दम पर अपनी पारी आठ विकेट के नुकसान पर 497 रनों पर घोषित कर दी था। इसके बाद आस्ट्रेलियाई गेंदबाजों ने अच्छा प्रदर्शन कर इंग्लैंड को 301 रनों पर समेट दिया और पहली पारी में 196 रनों की बढ़त हासिल कर ली थी।

आस्ट्रेलिया ने फिर दूसरी पारी में छह विकेट पर 186 रन बनाकर अपनी पारी घोषित कर दी थी और इंग्लैंड के सामने जीत के लिए 383 रनों का लक्ष्य रखा था।

कमेंट करें
AgMaJ