comScore

राजनेता नहीं बॉलीवुड एक्टर होते इमरान खान, देव आनंद ने दिया था फिल्म का ऑफर

September 08th, 2018 17:39 IST
राजनेता नहीं बॉलीवुड एक्टर होते इमरान खान, देव आनंद ने दिया था फिल्म का ऑफर

डिजिटल डेस्क, मुंबई। पाकिस्तान में प्रधानमंत्री बनने के करीब पहुंच चुके इमरान खान ने नतीजों के बाद अपनी पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस में भारतीय मीडिया पर आरोप लगाते हुए कहा कि उन्हें भारत की मीडिया ने किसी बॉलीवुड फिल्म के खलनायक की तरह प्रस्तुत किया है। उन्होंने सफाई देते हुए कहा कि वो भारत में सबसे ज्यादा घूमे-फिरे पाकिस्तानी हैं और भारत के साथ अच्छे संबंधों के पक्षधर भी रहे हैं। खैर, भारतीय मीडिया ने इमरान खान को बॉलीवुड विलेन के तौर पर पेश किया हो या न किया हो, लेकिन एक वक्त ऐसा भी था जब उन्हें हिंदी फिल्म में विलेन बनने का ऑफर मिला था। इमरान को ये ऑफर किसी और ने नहीं, बल्कि बॉलीवुड के लीजेंडरी एक्टर-फिल्ममेकर देव आनंद ने दिया था।


क्रिकेट मैच से मिला फिल्म का आइडिया
दरअसल जुहू के एक होटल में देव आनंद क्रिकेट मैच देख रहे थे और इसी दौरान उन्होंने क्रिकेट पर बेस्ड एक फिल्म की कहानी सोची थी। इस फिल्म में एक अहम किरदार निभाने के लिए उन्होंने इमरान खान को ऑफर दिया था। दरअसल ये फिल्म थी 'अव्वल नंबर' जिसमें सनी का लीड रोल आमिर खान ने निभाया था और उनके अपोजिट रॉनी के नेगेटिव रोल में आदित्य पंचोली थे। देव आनंद ने आदित्य पंचोली से पहले रॉनी का ये किरदार इमरान को ही निभाने का प्रस्ताव दिया था।


क्रिकेट बेस्ड मसाला फिल्म की कहानी
ये कहानी एक सुपरस्टार लेकिन घमंडी क्रिकेटर रॉनी और एक टैलेंटेड युवा क्रिकेटर सनी की थी। सनी जहां अपने करियर की शुरुआत करने वाला होता है, वहीं रॉनी को उसके खराब व्यवहार के लिए टीम से निकाल दिया जाता है। फिल्म में देव आनंद ने भी एक खास रोल निभाया था।


इमरान को मनाने लंदन गए देव साहब
देव आनंद ने लंदन से इमरान खान का फोन नंबर लेकर उन्हें कॉल किया और रॉनी का किरदार निभाने का ऑफर दिया था। जब इमरान ने देव आनंद के इस ऑफर को अस्वीकार कर दिया तो इसके बाद देव आनंद खुद लंदन पहुंचे और उन्होंने इमरान को मनाने की कोशिश की। तब इमरान ने उन्हें ये बताया कि जिया उल हक उन्हें अपनी कैबिनेट में कल्चरल मिनिस्टर बनाना चाह रहे हैं। ये सुनकर देव आनंद ने कहा कि ठीक है तुम मिनिस्टर भी बन जाओ और पाकिस्तान के अमिताभ बच्चन भी। इसके साथ ही देव साहब ने स्क्रिप्ट इमरान के पास छोड़ दी। अगले दिन इमरान ने वो स्क्रिप्ट वापस लौटा दी और साथ में एक पर्ची छो़ड़ी, जिसमें लिखा था, "सॉरी, मुझे पॉलिटिक्स में जाना है, सिनेमा में नहीं।"


बॉक्स ऑफिस पर फ्लॉप हुई थी फिल्म
इसके बाद रॉनी के नेगेटिव रोल में आदित्य पंचोली को साइन किया गया था। साल 1990 में रिलीज हुई अव्वल नंबर बॉलीवुड में क्रिकेट पर बनी कुछ ही फिल्मों में से एक है। ये फिल्म बॉक्स ऑफिस पर कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाई और असफल साबित हुई थी।    

कमेंट करें
taSul