comScore

सिमी का पूर्व अध्यक्ष शाहिद बद्र आजमगढ़ से गिरफ्तार, गुजरात पुलिस ने दबोचा

सिमी का पूर्व अध्यक्ष शाहिद बद्र आजमगढ़ से गिरफ्तार, गुजरात पुलिस ने दबोचा

हाईलाइट

  • प्रतिबंधित संगठन सिमी के पूर्व अध्यक्ष शाहिद को देशद्रोह के मामले में किया गिरफ्तार
  • गुजरात की भुज की एक अदालत ने शाहिद बद्र के खिलाफ जारी किया था वारंट

डिजिटल डेस्क, आजमगढ़। गुजरात पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। पुलिस ने स्टूडेंट्स इस्लामिक मूवमेंट ऑफ इंडिया (सिमी) के पूर्व अध्यक्ष शाहित बद्र को यूपी के आजमगढ़ से गिरफ्तार कर लिया है। शाहिद के खिलाफ यह कार्रवाई देशद्रोह के मामले में की गई। गुजरात की भुज की एक कोर्ट ने उसके खिलाफ वारंट जारी किया था, जिसमें वह पेश नहीं हुआ था। 2001 में दर्ज भड़काऊ भाषण के एक मामले में शाहिद बद्र की गुजरात की भुज और कच्छ पुलिस को तलाश थी।

बता दें कि, शाहित बद्र के खिलाफ उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ में कई मुकदमे दर्ज थे। वहीं भुज में शाहिद के खिलाफ 2012 में मुकदमा दर्ज हुआ था। पुलिस ने बताया, शाहिद के खिलाफ कई मुकदमे पहले से दर्ज हैं। यह गिरफ्तारी उसके पैतृक गांव आजमगढ़ के मंच ओवर से हुई है।

वहीं शाहिद ने कहा, मैं सिमी का अध्यक्ष रहा हूं। सुप्रीम कोर्ट और हाई कोर्ट में केस लड़ा रहा हूं। जो भी केस चल रहे हैं उनमें पेश होता रहा हूं। मुझे नहीं पता वारंट कब जारी किया गया था। वहीं शाहिद बद्र के परिवार का कहना है, उनको इस विषय में कोई जानकारी नहीं थी। जब से सिमी पर प्रतिबंध लगा है तब से उसके नाम पर कोई भी गतिविधि नहीं हुई।

सिमी भारत में एक प्रतिबंधित संगठन है। इसकी स्थापना 1977 में अलीगढ़ में हुई थी। कट्टरपंथी गतिविधियों में शामिल होने के कारण सिमी पर 2001 में प्रतिबंध लगाया गया था। बाद में प्रतिबंध हटाया भी गया, लेकिन फिर 2008 से संगठन पर लगातार बैन है।

कमेंट करें
mnD3J