comScore

'कश्मीर की आजादी के लिए पाकिस्तान के लोगों से लूंगा मदद'

November 24th, 2017 19:19 IST
'कश्मीर की आजादी के लिए पाकिस्तान के लोगों से लूंगा मदद'

डिजिटल डेस्क, इस्लामाबाद। पाकिस्तान आखिरकार मुंबई हमले के मास्टरमांइड और आतंकी संगठन जमात-उद-दावा के चीफ हाफिज सईद को रिहा कर दिया है। गुरुवार आधी रात को हाफिज की नजरबंदी के दिन पूरे हो गए थे, लिहाजा उसे आधी रात को ही रिहा कर दिया गया है। रिहा होने के साथ ही हाफिज ने भारत के खिलाफ जहर उगलना शुरू कर दिया। उसने कहा कि वह कश्मीर की आजादी की लड़ाई के लिए पूरे पाकिस्तान से लोगों को इकट्ठा करेगा और कश्मीरियों को आजादी दिलाने में मदद करेगा।

बता दें कि आतंकी गतिविधियों में भूमिका निभाने को लेकर अमेरिका ने पाकिस्तानी आतंकी संगठन के सरगना पर एक करोड़ डॉलर का इनाम घोषित कर रखा है। 

भारत ने जताई नाराजगी


विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि भारत सहित सम्पूर्ण अंतरराष्ट्रीय समुदाय पाकिस्तान सरकार के इस कदम से आक्रोशित है। उन्होंने कहा, 'आतंक को अंजाम देने वालों को न्याय के कटघरे में लाने के मामले में पाकिस्तान में गंभीरता का अभाव है। पाकिस्तान प्रतिबंधित आतंकवादियों को मुख्यधारा में लाना चाहता है। भारत इस बात से सख्त नाराज है।'

रवीश कुमार ने कहा, 'खुद को आतंकवादी मान चुके और संयुक्त राष्ट्र द्वारा प्रतिबंधित आतंकवादी को पाकिस्तान ने उसके गलत एजेंडे को जारी रखने और खुले में घूमने की अनुमति देकर यह भी साबित किया है कि पाकिस्तान ने सरकार से ऐसे तत्वों को संरक्षण और समर्थन देने की नीति में कोई बदलाव नहीं किया है।

अमेरिकी विशेषज्ञों की फटकार


अमेरिका के दक्षिण एशिया मामलों के विशेषज्ञों का कहना है कि हाफिज को रिहा कर पाक ने बता दिया है कि वे अपनी नीति नहीं बदलने वाले हैं। समय आ गया है कि पाकिस्तान का प्रमुख गैर नाटो सहयोगी का दर्जा रद्द कर दिया जाए। एक अमेरिकी विशेषज्ञ ब्रूस रीडल ने कहा, 'मुंबई में 26/11 हमले के नौ साल बीतने के बाद भी अब तक इसका मुख्य साजिशकर्ता खुले में घूम रहा है। यह पाकिस्तान का आतंक के प्रति स्टैंड जाहिर करता है।

कमेंट करें
KBshG